17 February 2019



प्रादेशिक
मध्यप्रदेश केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय द्वारा जारी योजना राशि का पूरा उपयोग करने वाला पहला राज्य बना
06-02-2013

केन्द्रीय पर्यटन मंत्री श्री चिरंजीवी ने पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी योजना निधि का अपने राज्य के विभिन्न पर्यटक-स्थलों में पर्यटन ढाँचे के विकास में पूर्ण उपयोग करने के लिए मध्यप्रदेश सरकार को बधाई दी है। मध्यप्रदेश इस योजना निधि का पूरा उपयोग करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है।

श्री चिरंजीवी ने मध्यप्रदेश में वर्ष 2013-14 के लिए पर्यटन विकास से संबंधित परियोजनाओं के बारे में आयोजित बैठक के बाद राज्य के पर्यटन विभाग द्वारा परियोजनाओं को समय पर लागू करने और 11वीं पंचवर्षीय योजना (2010-11 तक) में जारी की गई राशि के उपयोग के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की। प्रमुख सचिव पर्यटन मध्यप्रदेश श्री एस.पी.एस. परिहार और प्रबंध संचालक मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम श्री राघवेन्द्र कुमार सिंह इस अवसर पर मौजूद थे।

मध्यप्रदेश, देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जिसने राशि उपयोग और कार्य पूर्ण होने के सभी प्रमाण-पत्र जमा कर दिए हैं। प्रदेश के पास भारत सरकार की कोई निधि बकाया नहीं है तथा उसके धन के उपयोग के लिए वित्त मंत्रालय द्वारा जारी सभी निर्देशों का अनुपालन किया है। मध्यप्रदेश सरकार ने जारी किए गए धन का उपयोग मांडू, विदिशा, शिवपुरी, बुरहानपुर, महेश्वर, दतिया, इंद्रानगर, मंदसौर, हांडिया, बैतूल और चित्रकूट जैसे पर्यटक स्थलों के विकास पर किया है।