21 February 2019



प्रादेशिक
विभागीय अधिकारी आवंटित जिलों में करें भ्रमण
12-02-2013

स्वास्थ्य विभाग की 50 दिवसीय कार्य-योजना में लगभग 60 प्रतिशत तक कार्य हो चुका है। जो कार्य शेष रहा है उसे 20 फरवरी तक पूर्ण करने के निर्देश लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव श्री प्रवीर कृष्ण ने दिये हैं। श्री कृष्ण ने आज एक बैठक में कार्य-योजना पर अमल की समीक्षा की। बैठक में विभाग के आयुक्त श्री पंकज अग्रवाल सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। प्रमुख सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे भ्रमण के तीन दिन में एक दिन ग्रामीण क्षेत्र की स्वास्थ्य इकाइयों में स्थल भ्रमण कर वास्तविकताओं का निरीक्षण करें।

बैठक में श्री प्रवीर कृष्ण ने कहा कि अधिकारी अपने प्रभार के जिलों में जाकर विभाग द्वारा संचालित योजनाओं, कार्यक्रमों और नियमित कार्यों जैसे टीकाकरण, परिवार कल्याण आदि का क्रियान्वयन देखें।

श्री प्रवीर कृष्ण ने कहा कि सिविल वर्क के 200 कार्य लगभग पूर्ण हो चुके हैं। इसी तरह पूर्ण भवनों का पजेशन भी प्राप्त कर लिया जाये।

उन्होंने 5 मार्च को ‘आशा दिवस’ के पूर्व आशा कार्यकर्ताओं का भुगतान करने को कहा।

बैठक में अस्पतालों में निःशुल्क दवा वितरण व्यवस्थाओं एवं निःशुल्क लेब जाँच व्यवस्था की आवश्यकताओं के आकलन करने के निर्देश दिये गये। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र के स्वास्थ्य शिविर, ऊषा कार्यकर्ताओं और लेब टेक्नीशियन की नियुक्तियाँ 20 फरवरी तक पूर्ण करने को कहा गया। ग्राम आरोग्य केन्द्रों के लिये उपकरण एवं संसाधनों की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गये।

प्रमुख सचिव ने जननी सुरक्षा, बच्चे का स्वास्थ्य, अस्पताल में उन्हें मिलने वाली खुराक का जायजा लेने तथा निर्धारित मापदण्ड और मात्रा के अनुसार वितरण संबंधी जानकारी प्राप्त करने को कहा। उन्होंने कहा कि संस्थागत प्रसव के बाद स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा परिजनों से राशि वसूलने के रिवाज को समाप्त करने के लिये सख्ती से संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही करें।

बैठक में ‘सम्पर्क सेतु’ व्यवस्था में मोबाइल नम्बरों पर आवश्यक संदेश भेजने संबंधी व्यवस्था का कार्य 15 फरवरी तक पूर्ण कर लेने को कहा गया।