21 February 2019



प्रादेशिक
दुष्कर्मी को आजीवन कारावास
21-02-2013
बलात्कार के मामले में पर्याप्त दंड न देना तथा उदार रूप अपनाना आरोपी को ऐसा कार्य करने के लिए बढ़ावा देने की श्रेणी में आएगा। यह बात तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश जाकिर हुसैन ने बलात्कार के मामले में निर्णय देते हुए बलात्कारी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है घटनाक्रम के अनुसार लगभग आठ माह पूर्व बीटीआई रोड पर एक अबोध बालिका से उसके घर में जब उसके माता-पिता मजदूरी करने गए थे तब संजू पिता रमेश गांगले निवासी आनंद नगर ने बलात्कार किया था। इस मामले में मंगलवार को न्यायालय ने आरोपी संजू को भादंवि की धारा 376 के अंतर्गत आजीवन करावास तथा 10 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया है। अर्थदंड की राशि नियत अवधि पश्चात पीड़िता को दिए जाने का भी आदेश न्यायालय द्वारा दिया गया है। अभियोजना की ओर से पैरवी अपर लोक अभियोजक सुधीर कुलकर्णी द्वारा की गई। लूट के आरोपियों को कठोर कैद खरगोन। सेगांव चौकी अंतर्गत लूट के एक मामले में न्यायालय ने महत्वपूर्ण फैसला सुनाया है। लेहकू फाटे पर 1 मार्च 2011 की रात हुई लूट की वारदात के आरोपियों को कठोर कारवास की सजा सुनाई है। घटना में सुरेश उर्फ सुरजा पिता निहाला [27] निवासी उपड़ी, सुरेश पिता देवा [22] निवासी अंबापुरा व सोनिया उर्फ सोहन पिता सहादर [25] निवासी केली ने मिलकर लेहकू फाटे के पास मोटरसाइकल से ग्राम लेहकू जाते जितेंद्र व विजय से 40 हजार रुपए लूट लिए थे। घटना में दोनों घायल हो गए थे। इन्होंने सेगांव चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। विवेचना के बाद अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। न्यायालय में प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एनएस सुलिया ने तीनों आरोपियों को लूटपाट करने के जुर्म में 7-7 वर्ष के कठोर कारावास एवं 1-1 हजार रुपए अर्थदंड से दंडित किया है। प्रकरण का संचालन अभियोजन पक्ष की ओर से अभिवक्ता पं. केपी त्रिपाठी द्वारा किया गया।