15 February 2019



राष्ट्रीय
नोट के बदले वोट मामले में सीबीआई के छापे
21-02-2013
झारखंड हाईकोर्ट के निदेश पर वर्ष 2010 राज्यसभा चुनाव में नोट के बदले वोट देने के मामले की जांच सीबीआई ने शुरू कर दी है। सीबीआई ने गुरुवार को झारखंड के कुछ विधायकों के रांची व क्षेत्रीय आवास पर छापेमारी की। जिन विधायकों के यहां पर छापेमारी की गई है उनमें साइमन मरांडी [झामुमो], उमा शंकर अकेला [भाजपा], योगेंद्र साव [कांग्रेस], राजेश रंजन [कांग्रेस], सावना लकड़ा [कांग्रेस] शामिल हैं। जनवरी में ही झारखंड हाईकोर्ट ने निगरानी ब्यूरो की जांच से इत्तफाक न रखते हुए इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का आदेश दिया था। गौरतलब है कि वर्ष 2010 में राज्यसभा चुनाव के दौरान 6 विधायकों को वोट के बदले नोट की बात करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। नोट के बदले वोट मामले ने काफी तूल पकड़ा था और इस मामले की जांच सूबे के निगरानी विभाग को सौंपी गई थी। लेकिन इसकी प्रोग्रेस रिपोर्ट से हाईकोर्ट संतुष्ट नहीं था। यही वजह थी कि हाईकोर्ट ने इसकी जांच सीबीआई के हवाले कर दी थी। देश का यह पहला मामला है जहां एक भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी की जांच कोई दूसरी जांच एजेंसी करेगी।