18 February 2019



प्रादेशिक
बंशकार समाज को पिछड़ा और गरीब नहीं रहने देंगे
25-02-2013

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बंशकार समाज की कला को मरने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बाँस विकास निगम की स्थापना की जाएगी, जिसका अध्यक्ष बंशकार समाज से ही होगा। सरकार प्रयास करेगी कि समाज के लोगों को बाँस रियायती दर पर और आसानी से प्राप्त हो। मुख्यमंत्री जबलपुर में संयुक्त बंशकार विकास समिति द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में बोल रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज की व्यवस्था बनाने का कार्य बंशकार समाज ने किया है। खेती किसानी को सुगम बनाने में बंशकार समाज की भूमिका रही है। खेती किसानी में लगने वाले सभी बांस के बर्तन, ढुली, बोईया, टोकनी, टुकनिया, सूपा चंगेर आदि सामग्री समाज के लोगों ने बनाकर दी, जिससे किसान का काम आसान हुआ

श्री चौहान ने समाज के लोगों का आव्हान किया कि वे अपने बच्चों को अच्छी तरह पढ़ाये। जहाँ कहीं कोचिंग की आवश्यकता होगी, सरकार व्यवस्था करेगी। समाज के बच्चों की उच्च शिक्षा में बाधा नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने कहा समाज के लोग परम्परागत काम के साथ शिक्षा भी आवश्यक रूप से प्राप्त करें जिससे अन्य काम-धंधों को भी अपनाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं के स्व-रोजगार के लिए 50 हजार रूपये तक के ऋण के लिए मार्जिन मनी और बैंक गारंटी सरकार देगी जिससे उन्हें बैंक लोन मिलने में दिक्कत नहीं रहेगी। पाँच साल तक पाँच प्रतिशत ब्याज का भुगतान भी सरकार द्वारा किया जायेगा। कार्यक्रम में डॉ. सी.एल. बंशकार ने समाज की ओर से मुख्यमंत्री को माँग-पत्र सौंपा।

कार्यक्रम में पशुपालन मंत्री श्री अजय विश्नोई, क्षेत्रीय सांसद श्री राकेश सिंह, जबलपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष अनिल शर्मा, विधायक एवं मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष, श्री मोती कश्यप सहित इसाई समाज और बंशकार समाज के लोग बड़ी संख्या में मौजूद थे।