17 February 2019



प्रादेशिक
अध्यापकों का जल सत्याग्रह शुरू, 14 हजार स्कूल बंद
04-03-2013
सोनकच्छ के पास नर्मदा, राजगढ़ में क्षापी नदी, जबलपुर में नर्मदा नदी सहित अन्य जिलों में अध्यापकों का रविवार से जल सत्याग्रह शुरू हो गया है। भूख हड़ताल पर बैठे मोर्चा संयोजक मुरलीधर पाटीदार की हालत स्थिर बनी हुई है। अध्यापकों की हड़ताल के चलते 33 जिलों के 14 हजार स्कूल बंद है। दूसरी तरफ छिंदवाड़ा के जिला अध्यक्ष पंजाबराव दरबई की पत्‍‌नी ने मुख्यमंत्री के जन्मदिवस पर आत्मदाह की चेतावनी दी है। समान कार्य समान वेतन व शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग को लेकर 24 फरवरी से अध्यापकों का अनिश्चितकालीन अनशन शुरू हुआ है। अध्यापकों का निलंबन व अनशनकारी अध्यापकों को जबरदस्ती अस्पताल में भर्ती कराने के बाद, उनका आंदोलन उग्र होता जा रहा है। रविवार से सोनकच्छ के पास नर्मदा, राजगढ़ में क्षापी नदी, जबलपुर में नर्मदा नदी सहित अन्य जिलों में अध्यापकों ने अर्धनग्न होकर जल सत्याग्रह शुरू कर दिया है। छिंदवाड़ा जिला अध्यक्ष की पत्‍‌नी ने मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के जन्मदिवस पर आत्मदाह की चेतावनी दी है। अध्यापकों की हड़ताल के चलते 33 जिलों के करीब 14 हजार स्कूल बंद है। इन जिलों में 97 हजार अध्यापकों में से करीब 72 हजार हड़ताल पर बैठे हुए है।