17 February 2019



प्रादेशिक
अपहृत की लाश मिलने पर थाने पर हमला
05-03-2013
प्रॉपर्टी डीलर के अपहृत बेटे की लाश मिलने के बाद उग्र भीड़ ने सोमवार को कोतवाली थाने पर हमला करके आधा दर्जन पुलिस वाहनों में आग लगा दी। आक्रोशित लोगों ने थाने में खड़े वाहनों में आग लगा दी। पुलिस को जान बचाने के लिए एक कमरे में छिपना पड़ा। बाद में पुलिस ने हवाई फायरिंग करके भीड़ को भगाया। हमले में 12 पुलिसकर्मी घायल हो गए। जल मंदिर रोड निवासी प्रॉपर्टी डीलर कमल गोयल के 11 वषर्षीय पुत्र उत्सव गोयल का अपहरण दो मार्च को बदमाशों ने कर लिया था। पुलिस ने सोमवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि बच्चे की हत्या कर लाश को ग्वालियर रोड स्थित खोहद घाटी में फेंक दिया। यह जानकारी जैसे ही शहर के लोगों को लगी, लोग धीरे-धीरे माधव चौक पर जुटने लगे। रात लगभग नौ बजे अचानक भीड़ उग्र हो उठी और पुलिस सहायता केंद्र में तोड़फोड़ करने लगी। मौके पर पहुंचे पुलिस के जवानों ने जब भीड़ को रोकने का प्रयास किया तो भीड़ और उग्र हो गई। स्कूल बस का ड्राइवर मास्टर मांइड उत्सव हैप्पीडेज स्कूल का छात्र था। वह जिस स्कूल बस से वह आता-जाता था, उसी का ड्राइवर अपहरण का मुख्य साजिशकर्ता बताया जाता है। पुलिस ने बस ड्राइवर अकील खान, फिरोज खान को गिरफ्तार किया है। यह दोनों आरोपी शिवपुरी के रहने वाले हैं, जबकि गोविंद यादव समेत एक अन्य आरोपी फरार है। इसमें से एक आरोपी झांसी का रहने वाला है।