24 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
भारत आ रहीं दो महिला पर्यटकों का पाकिस्तान में अपहरण
15-03-2013

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत से भारत आ रही चेक की दो महिला पर्यटकों का सुरक्षा बलों के भेष में संदिग्ध आतंकवादियों ने अपहरण कर लिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं की पहचान हाना हम्पालोया और एंटोनी चरस्टेका के तौर पर हुई है। इन महिलाओं का बुधवार को ईरान की सीमा के पास अ‌र्द्धसैनिक बलों का परिधान पहने लोगों ने अपहरण कर लिया। अधिकारियों ने बताया कि क्वेटा और लाहौर के रास्ते भारत घूमने के लिए इन लोगों ने ईरान से दक्षिण-पश्चिम प्रांत में प्रवेश किया था। जिस समय इन महिलाओं को अगवा किया गया उस समय वे क्वेटा की प्रांतीय राजधानी से 550 किलोमीटर दूर चगाई जिले में यात्रा कर रही थी। न्यूजवीक पाकिस्तान वेबसाइट ने एक पुलिस अधिकारी केहवाले से बताया है कि चगाई जिले के नोक कुंडी इलाके में चेक पर्यटकों को लेकर जा रही बस को लगभग 12 सशस्त्र लोगों ने रोका और वाहन में मौजूद सुरक्षाकर्मी के साथ चेक पर्यटकों को अज्ञात जगह पर ले गए। अधिकारी ने बताया कि अपहर्ताओं ने सुरक्षाकर्मी का हथियार छीन लिया और उसे रिहा कर दिया, लेकिन पर्यटकों के बारे में कुछ नहीं कहा। अपहरण की जिम्मेदारी अभी तक किसी संगठन ने नहीं ली है। बलूचिस्तान में अपहरण, आतंकी हमला और सांप्रदायिक हिंसा आम बात है। वहां पर तालिबान और अन्य संगठन सक्रिय हैं। जुलाई, 2011 में स्विट्जरलैंड के दंपति का बलूचिस्तान के लोरालाई जिले से अपहरण कर लिया गया था। बाद में पता चला कि वजीरिस्तान में तहरीक-ए-तालिबान ने उन्हें बंधक बना रखा है। मार्च, 2012 में दोनों भागने में कामयाब रहे। बलूचिस्तान में फिरौती के लिए कई अल्पसंख्यक हिंदू व्यापारियों का अपहरण किया जा चुका है।