22 February 2019



राष्ट्रीय
सीआरपीएफ पर हमले में शामिल थे पांच आतंकी
15-03-2013
बेमिना में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आत्मघाती हमले में पांच आतंकी शामिल थे। शुक्रवार को पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए बारामुला से बशीर नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो उनका गाइड और ओवर ग्राउंड वर्कर था। बशीर ने ही पांचों आतंकियों को बेमिना तक पहुंचाया था। इससे पहले एक पाकिस्तानी आतंकी अबुत्लाह को गुरुवार रात संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद जिंदा दबोचा गया। दो आतंकी अभी भी फरार हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार, राज्य पुलिस महानिदेशक अशोक प्रसाद के नेतृत्व जांच दल ने पहले उत्तरी कश्मीर के उड़ी के रहने वाले बशीर को गिरफ्तार किया है। उसने शताबल इलाके स्थित अपने भाई गुलाम नबी के मकान में उन पांचों आतंकियों को ठहराया था। पुलिस ने उसी मकान से अबुत्लाह को गिरफ्तार किया। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक मुठभेड़ में पांचों आतंकी शामिल थे, लेकिन दो मौके पर ही मारे गए और अबुत्लाह समेत तीन वहां से फरार हो गए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मारे गए आतंकियों में एक का नाम हिलाल मौलवी और दूसरे का नाम अब्दुल्ला अस्करी है। उन्होंने बताया कि भाग निकले अबूत्लाह के दो साथियों के नाम छोटा हुरेरा और अबू साध है। गौरतलब है कि गत गौरतलब है कि गत बुधवार की सुबह आतंकियों ने क्रिकेटरों के भेष में बेमिना में स्थित पुलिस पब्लिक स्कूल के मैदान में दाखिल होकर सीआरपीएफ के जवानों पर हमला किया था। इस हमले में पांच जवान शहीद हो गए थे, जबकि जवाबी कार्रवाई में दो आत्मघाती हमलावर मारे गए थे। इस हमले के बाद मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जांच की जिम्मेदारी पुलिस महानिदेशक अशोक प्रसाद की सौंपी। उन्होंने मुठभेड़स्थल और उसके पास के इलाकों में सदिंग्ध तत्वों की निगरानी व अपने तंत्र से मिली सूचनाओं के आधार पर पता लगाया था कि मारे गए आतंकियों के कुछ और साथी भी थे, जो भागने में कामयाब रहे हैं। इन लोगों की तलाश के लिए उनके सभी संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही थी और आज पुलिस बशीर को पकड़ने में कामयाब हुई। इससे पहले गुरुवार रात करीब साढ़े आठ बजे पुलिस दल ने गुप्त सूचना के आधार पर बेमिना से मात्र पांच मिनट की दूरी पर रामपोरा-छत्ताबल इलाके में एक जगह दबिश दी। वहां छिपे आतंकी ने पुलिस दल को देखते ही फायरिंग कर दी। पुलिसकर्मियों ने भी जवाबी कार्रवाई की और बड़ी ही चालाकी से मुठभेड़ में उलझाते हुए तीसरे आतंकी अबूत्लाह को जिंदा ही दबोच लिया।