19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
म्यांमार के तीन और शहरों में फैला दंगा
26-03-2013
म्यांमार में बौद्ध और मुस्लिमों के बीच सांप्रदायिक सौहार्द और बिगड़ता जा रहा है। मामूली विवाद से महीनों पहले शुरू हुई दंगों की आग तीन और शहरों में फैल गई है। इस दौरान कई मस्जिदें ध्वस्त करने के साथ ही दर्जनों घर आग के हवाले कर दिए गए। राष्ट्रपति थीन सीन शुक्रवार को ही मध्य म्यांमार में आपातकाल की घोषणा कर चुके हैं और मीकतिला शहर में सेना तैनात की गई है। यह वही शहर है जहां पिछले हफ्ते फैले दंगों में 32 लोगों की मौत हो गई थी और 10 हजार से अधिक लोगों को घर छोड़ना पड़ा था।  सेना की तैनाती के बाद हथियारबंद बौद्धों ने शहर में मुस्लिम घरों में आग लगा दी और मुस्लिम विरोधी उपद्रवी राजधानी नायपियदा से दक्षिण की ओर बढ़ गए हैं। मीकतिला से 80 किमी दूर तातकोन के एक मुस्लिम निवासी ने फोन पर बताया कि शनिवार देर रात 20 लोगों के एक दल ने एक-मंजिला मस्जिद में तोड़फोड़ की। उन्होंने पत्थर फेंके और खिड़कियों को तोड़ दिया। सुरक्षाबलों द्वारा गोली चलाने पर वे भाग खड़े हुए। उसका मानना है कि उपद्रवी तातकोन के नहीं थे। यमेथिन में एक दिन पूर्व शनिवार रात भीड़ ने 50 घर और एक मस्जिद को जला दिया था। उसी दिन लेवेई में एक अन्य मस्जिद और कुछ इमारतें क्षतिग्रस्त कर दी गईं थीं।