19 February 2019



राष्ट्रीय
बोला, भगवान ने बुलाया है और धकेल दिया कुएं में
30-03-2013
उसने कहा कि वह मेरी बहन से शादी करना चाहता है, मैंने मना किया तो बोला तुझे भगवान ने बुलाया है और फिर 30 फुट गहरे कुएं में धक्का दे दिया। यह कहना था 10 साल के मासूम रोहित का, जिसे एक हैवान ने तीस फुट गहरे सूखे कुएं में धक्का देकर गिरा दिया। अब इसे चमत्कार ही कह सकते हैं कि दो दिन कुएं में रहने के बाद उसे सही सलामत बाहर निकाल लिया गया। उसके शरीर को गिरने से लगी कुछ चोटों के अलावा कोई और नुकसान नहीं हुआ है। बुलंदपुर के पास सटे पंजाबी बाग में भगवान सिंह नाम के किसान के मक्की के खेत हैं। शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे भगवान सिंह के भतीजे रंजीत सिंह व संतोख सिंह खेत में खाद डालने आए थे। उनके खेतों में दो कुएं थे, जिनमें से एक पानी से भरा हुआ था और दूसरा सूखा था। खाद देते समय दोनों को किसी बच्चे के चीखने की आवाज आई। उन्होंने सूखे कुएं में झांककर देखा तो पैरों तले जमीन निकल गई। कुएं में एक बच्चा मदद को चिल्ला रहा था। उन्होंने तुरंत गांव की सरपंच सुरिंदर कौर और खेत मालिक भगवान सिंह को बुलाया। सभी के इकट्ठा होने पर उन्होंने रस्सी से एक आदमी को नीचे उतारा जो बच्चे को लेकर बाहर आया। बाहर आने पर बच्चे ने अपना नाम रोहित पुत्र सुनील निवासी पंजाबी बाग बताया। सरपंच सुरिंदर कौर ने उसे पहचाना और बताया कि करीब दो दिन से उसकी मां अंजना देवी उसे ढूंढ रही है। इसके बाद अंजना देवी और उनके पति सुनील को बुलाया गया। बच्चे ने बताया कि उनके पड़ोस में स्थित एक फैक्ट्री में काम करने वाला अजरुन उसे होली वाले दिन शाम को पांच बजे लेकर आया। अजरुन ने उससे कहा कि वह उसकी 16 वर्षीय बहन से शादी करना चाहता है और वह उसे मनाए। मना करने पर अजरुन ने उससे कहा कि चल अब भगवान तुझे बुला रहा है। इसके बाद अजरुन ने उसे कुएं में धक्का दे दिया जिससे उसे चोटें भी आईं। दो दिन वह भूखा प्यासा कुएं में रहा और आज बाहर से आवाजें सुनी तो वह मदद के लिए चिल्लाने लगा। यह सुनने के बाद गांव वालों ने तुरंत पुलिस को फोन कर दिया। डीएसपी जसबीर सिंह राय व थाना मकसूदां प्रभारी जैमल सिंह मौके पर पहुंचे और बच्चे के बयान लेकर उसे अस्पताल भिजवाया। डीएसपी जसबीर सिंह ने बताया कि अजरुन के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया गया और उसकी तलाश में पुलिस टीमें भेज दी गई हैं।