17 February 2019



प्रादेशिक
आज से रतलाम जिले के सभी घरों में 24 x 7 घंटे बिजली आपूर्ति (अटल ज्योति अभियान)
06-04-2013

राज्य सरकार द्वारा अटल ज्योति अभियान के जरिये एक-एक कर सभी जिलों में 24 x 7 घंटे विद्युत प्रदाय की शुरूआत की जा रही है। योजना के जरिये जबलपुर, मण्डला, अनूपपुर, उमरिया, शहडोल, बुरहानपुर तथा भोपाल जिले में 24 घंटे बिजली उपलब्ध हो गई है। रतलाम जिले में इस कार्य की शुरूआत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और श्री नितिन गडकरी 7 अप्रैल को दोपहर साढे तीन बजे उत्कृष्ट विद्यालय प्रांगण में करेंगे। कार्यक्रम में वन तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री सरताज सिंह, ऊर्जा तथा खनिज साधन मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल एवं नगरीय प्रशासन राज्य मंत्री श्री मनोहर ऊँटवाल सहित अनेक जन-प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे।

अटल ज्योति अभियान का उद्देश्य

अटल ज्योति अभियान का उद्देश्य घरेलू, व्यावसायिक, औद्योगिक तथा अन्य गैर कृषि उपभोक्ताओं को थ्री-फेस पर 24 घंटे विद्युत प्रदाय करते हुए ग्रामीण अर्द्धशहरी एवं शहरी इलाकों में लघु-कुटीर उद्योगों के माध्यम से जीविका में सुधार लाना है। साथ ही कृषि उत्पादन में वृद्धि, चिकित्सा तथा शिक्षा सेवाओं में गुणवत्ता लाने एवं शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र का समन्वित एवं समेकित विकास करना है।

रतलाम में योजना क्रियान्वयन का स्वरूप

रतलाम जिले में अटल ज्योति अभियान में क्रियान्वित योजना पर 110.70 करोड़ रूपए खर्च किए गए हैं। कुल विद्यमान 202 फीडर को विभक्त किया जाना है। इससे 1053 ग्राम लाभान्वित होंगे। अधोसंरचना के प्रमुख कार्य में 33/11 के.व्ही. के चार नवीन उपकेन्द्र स्थापित किए गए हैं। साथ ही पाँच अतिरिक्त पावर ट्रांसफार्मर लगे एवं 15 पावर ट्रांसफार्मर की क्षमता वृद्धि की गई है। 26.40 कि.मी. 33 के.व्ही.लाईन एवं 1213 कि.मी.11 के.व्ही. लाईन का निर्माण किया गया है। एरियल बंच केबल लाईन की स्थापना 836 कि.मी.में की गई है। साथ ही 25 के.व्ही.ए. के 1711वितरण ट्रांसफार्मर की स्थापना के साथ 137ट्रांसफार्मर की क्षमता में वृद्धि की गई है। इससे घरेलू कनेक्शन में 10 हजार 323 कनेक्शन की वृद्धि हुई है। इसके अलावा 20 हजार 375 घरेलू अनमीटर कनेक्शन को मीटरीकृत किया गया है।

रतलाम जिले की अन्य जानकारी

रतलाम जिले की जनसंख्या 14 लाख 54 हजार 483 है। जिले में कुल ग्राम की संख्या 1053 हैं। कुल विद्युत उपभोक्ता 2 लाख 90 हजार 54 हैं। स्थाई कृषि पंप उपभोक्ता 71 हजार 451 हैं। जिले में विद्युत भार 185 मेगावाट प्रतिदिन औसत है। 33/11 के.व्ही.उपकेन्द्र संख्या 72 है तथा 11 के.व्ही. फीडर की संख्या 351 है। ग्रामीण फीडर 303 तथा शहरी फीडर 48 हैं। इसके अलावा 864 कि.मी. 33 के.व्ही.फीडर्स की लम्बाई तथा 11 के.व्ही. लाइनों की लम्बाई 6729 कि.मी. है। एरियल बंच केबल निम्न दाब की लाईन 931 कि.मी. तथा निम्न दाब लाइन कण्डक्टर) 13687 कि.मी. है।

अभियान के लाभ

अटल ज्योति अभियान में 24 घंटे विद्युत प्रदाय से घरों में खुशहाली आएगी एवं कृषि,आर्थिक विकास तथा संचार उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा।शिक्षा सुविधा में वृद्धि और सुधार,स्वास्थ्य सेवाओं में वृद्धि तथा रोजगार के ज्यादा अवसर पैदा होने के साथ ही लोगों के जीवन स्तर में सुधार होगा। ग्रामीण क्षेत्रों में सुविधाओं के बढ़ने के साथ-साथ लघु एवं कुटीर उद्योगों के माध्यम से ग्रामीणों की जीविका बेहतर होगी।

अटल ज्योति अभियान के अन्तर्गत प्रदेश के सभी फीडरों पर मीटर डाटा अधिग्रहण प्रणाली स्थापित की गई है। इसके व्दारा समस्त 33 के.व्ही. तथा 11 के.व्ही. विद्युत प्रवाह को रिमोट पद्धति से केन्द्रीय सर्वर पर पढ़ा जा सकेगा। इस तरह प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में विद्युत उपलब्धता पर सतत् निगरानी रखी जा सकेगी।