17 February 2019



प्रादेशिक
आयोग ने मांगा बुंदेलखंड पैकेज का हिसाब
18-04-2013
बुंदेलखंड के छह जिलों में लागू विशेष पैकेज में अब तक हुए कामों का हिसाब-किताब राज्य योजना आयोग ने विभाग से मांगा है। विभागों की रिपोर्ट के आधार पर पैकेज के पहले चरण के बाकी 198 करोड़ रुपए की मांग केन्द्र सरकार से की जाएगी। वहीं, जो काम अभी पूरे नहीं हुए हैं उन्हें जरूरत के मुताबिक दूसरे चरण में राशि दिलाने की कोशिश होगी। सूत्रों ने बताया कि बुंदेलखंड पैकेज के पहले चरण का पूरा हिसाब-किताब तैयार करके केन्द्रीय योजना आयोग को भेजा जाना है। इसके लिए वन, ग्रामीण विकास, जल संसाधन, पशुपालन, उद्यानिकी, कृषि सहित अन्य विभागों से भौतिक और वित्तीय स्थिति की रिपोर्ट तलब की गई है। बताया जा रहा है कि पैकेज में जो काम शुरू हुए थे उनमें कृषि और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के काम अधूरे रहे गए हैं। वहीं, केंद्र सरकार ने भी अतिरिक्त केंद्रीय सहायता के 198 करोड़ रुपए विभागों को मुहैया नहीं कराए हैं। यह राशि स्वीकृति योजनाओं पर व्यय होनी है। इसलिए कामों की स्थिति के आधार पर केन्द्र से राशि की मांग की जाएगी। वहीं, दूसरे चरण की राशि भी रिपोर्ट पहुंच जाने के बाद मिलने के आसार हैं। बताया जा रहा है कि दूसरे चरण में डेढ़ हजार करोड़ रुपए प्रदेश को मिल सकते हैं। इस रकम से ऐसे कार्य करने की रणनीति बनाई जा रही है जो हितग्राही मूलक हो। इसके लिए विभागों को योजना बनाने का फार्मूला देकर जानकारी मांगी गई है।