19 February 2019



राष्ट्रीय
कॉल गर्ल न मिल पाई तो नन्हीं गुड़िया की लूट ली आबरू
23-04-2013

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के गांधीनगर में पांच साल की बच्ची से हुए रेप के मामले में एक ऐसी घिनौनी जानकारी सामने आई है, जिसे जानने के बाद इन दरिंदों के प्रति आपके मन में नफरत और बढ़ जाएगी। पुलिस पूछताछ में मनोज ने बताया है कि 15 अप्रैल की शाम को उसने प्रदीप के साथ मिलकर खूब शराब पी। फिर दोनों मोबाइल पर पोर्न वीडियो देखने लगे। इसे देखते-देखते सेक्स के प्रति दोनों की हवस बढ़ गई। फिर दोनों ने कमरे पर कॉल गर्ल को लाने के बारे में सोचा तो पैसे कम पड़ गए। फिर इन दरिंदों की गंदी नजर पड़ी पांच साल की मासूम गुड़िया पर। उसे चॉकलेट का लालच देकर अपने कमरे पर लाए और बारी-बारी से अपनी हवस मिटाई। इतने से भी मन नहीं भरा तो नन्हीं गुड़िया के शरीर के साथ अमानवीय कृत्य कर डाला जेल में बंद दोनों दरिंदों के चेहरे पर कोई शर्म नहीं है। दिल्ली गैंगरेप का मुख्य आरोपी मनोज ने जेल में जाते ही सबसे पहले खाना मांगा और कहा कि उसे झूठा फंसाया जा रहा है। मनोज के चेहरे पर जरा सी भी शिकन नहीं है कि उसने कितना घिनौना काम किया है। सूत्रों के मुताबिक वह अन्य कैदियों से हंस कर बातें कर रहा था।