16 February 2019



राष्ट्रीय
अमेरिका में मुझसे हुई बदसलूकी के पीछे खुर्शीद की साजिश: आजम
28-04-2013

नई दिल्ली। सपा नेता और उत्तर प्रदेश के शहरी विकास मंत्री आजम खां ने अमेरिका के बॉस्टन एयरपोर्ट पर हुई पूछताछ मामले में विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद पर आरोप जड़ दिए हैं। आजम खां का कहना है कि खुर्शीद के ही इशारे पर उनके साथ अमेरिकी एयरपोर्ट पर बदसलूकी की गई है। उन्होंने कहा, \'सलमान खुर्शीद ने मेरे खिलाफ साजिश रची और उन्हीं के इशारे पर ही मुझसे पूछताछ की गई।\' आजम ने कहा कि हमारी पार्टी के नेता जानते हैं कि असल में क्या हुआ और इसके पीछे किसका हाथ है। यूपीए को समर्थन पर वह जल्द ही कोई फैसला लेंगे। खां ने कहा कि जब एयरपोर्ट पर मुझे अलग ले जाकर पूछताछ की जा रही थी तब हमें लेने पहुंचे भारतीय दूतावास के अधिकारी हमारे साथ अजनबियों जैसा व्यवहार कर रहे थे। वे चुप और अलग-थलग थे। खां ने ये भी आरोप लगाया कि उन्हें लगता है, भारतीय दूतावास के अधिकारियों को उनके वरिष्ठों ने पहले से ही अलग रहने का निर्देश दे दिया था। उन्होंने कहा कि यह एक साजिश ही थी क्योंकि मैं भारत का एक गैर कांग्रेसी ताकतवर मुस्लिम नेता हूं और खुर्शीद ने अपनी पोजीशन का इस्तेमाल करके बड़ी चालाकी से आंतरिक सुरक्षा विभाग की मदद से योजना बनाई। बोस्टन एयरपोर्ट पर मुझे रोके जाने की तुलना पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम और अदाकार शाहरुख खान के मामलों से नहीं की जा सकती क्योंकि मुझे खुर्शीद और उनकी मंडली ने निशाना बनाया है जिनके पास मुझे भारत में चुनौती देने की हिम्मत नहीं है। इसके पहले अमेरिका के बोस्टन शहर के हवाई अड्डे पर नगर विकास मंत्री आजम खां से हुई पूछताछ पर समाजवादी पार्टी सरकार के राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त देवेंद्र गुप्ता ने कहा था, अमेरिका में आजम का कोई अपमान नहीं हुआ। अमेरिकी कानून ने अपना काम किया है। विदित हो कि कुंभ मेले के सफल आयोजन के सिलसिले में हार्वर्ड विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने गए आजम खां और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस घटना के विरोधस्वरूप आयोजन का बहिष्कार भी किया। उत्तर प्रदेश में वैकल्पिक ऊर्जा स्त्रोतों से संबंधित सरकारी संस्था नेडा के चेयरमैन देवेंद्र गुप्ता ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आजम खां की अमेरिका में तलाशी बिल्कुल ठीक है। इसमें अपमान जैसी क्या बात है? एयरपोर्ट पर तलाशी अमेरिकी कानून का हिस्सा है। फिल्म अभिनेता शाहरुख खान और कई बड़े नेताओं की एयरपोर्ट पर तलाशी हुई है। आजम खां उत्तर प्रदेश सरकार के एक मंत्री ही तो हैं। अमेरिका में देश-विदेश की प्रभावशाली शख्सियतों को भी इस प्रक्रिया से गुजरना ही पड़ता है। इसलिए उसे अपमान बताना या तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करना उचित नहीं है। उल्लेखनीय है कि आजम खां द्वारा नाराजगी जताये जाने के बाद समाजवादी पार्टी ने संसद में इस मुद्दे पर हंगामा किया। बाद में अमेरिका में भारतीय दूतावास ने मामले को अमेरिकी विदेश मंत्रालय के समक्ष रखकर अपना विरोध जताया था। हम उतारेंगे अमेरिकियों के कपडे़: विधायक अमेरिका में नगर विकास मंत्री आजम खां के अपमान के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी ने शनिवार को जिला मुख्यालय व तहसीलों पर विरोध जताया। जगह-जगह अमेरिका के पुतले व झंडे जलाए गए। रामपुर कलेक्ट्रेट पर धरने के बीच हुई सभा में सपाइयों ने मांग की कि केंद्र सरकार अमेरिका पर माफी मांगने की हद तक दबाव बनाए। ऐसा न होने पर वे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को चूड़ियां भेंट करेंगे। शाहबाद के विधायक विजय सिंह ने चेतावनी दी कि अगर माफी नहीं मांगी गई तो उत्तर प्रदेश में आने वाले अमेरिकियों के कपड़े उतारकर हम उन्हें बेइज्जत करेंगे। अब दक्षिण अफ्रीका जाएंगे आजम उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य एवं नगर विकास मंत्री आजम खां अमेरिका से लौटने के बाद पांच दिन के लिए दक्षिणी अफ्रीका के दौरे पर जाएंगे। बोस्टन हवाई अड्डे पर पूछताछ के नाम पर हुई अभद्रता के चलते आजम की अमेरिका यात्रा इन दिनों चर्चा में है। प्रवक्ता के मुताबिक आजम खां 28 अप्रैल की रात 11:45 बजे अमेरिका से दिल्ली लौट आएंगे। वहां से रामपुर आएंगे और 29 अप्रैल को दिल्ली जाकर रात में वहां से दक्षिण अफ्रीका जाने वाली उड़ान पकड़ेंगे। वह चार मई तक दक्षिण अफ्रीका में रहेंगे। पांच मई को वह भारत वापस लौट आएंगे।