19 February 2019



राष्ट्रीय
चुनाव के लिए जरदारी ने कराया सरबजीत का कत्ल
02-05-2013
सरबजीत की मौत से गुस्साई उनकी बहन दलबीर कौर ने पाकिस्तान राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी पर सरबजीत को कत्ल करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि चुनाव की खातिर जरदारी ने सरबजीत को कत्ल करवाया है। कौर ने कहा कि यदि भारत सरकार सही समय पर उनकी बात सुन लेती तो आज सरबजीत भारत में अपने परिवार के बीच होता। सरबजीत की मौत पर गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने भी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान ने भारत को धोखा दिया है।

सरबजीत की बहन ने कहा कि जब वह अस्पताल में अपने भाई के बारे में वहां के डाक्टरों और नर्स से पूछती थीं तो वह हंसते थे, क्योंकि वह जानते थे कि सरबजीत पहले ही मर चुका है। उन्होंने पाकिस्तान पर सरबजीत के इलाज का झूठा ड्रामा करने का भी आरोप लगाया है। कौर ने कहा कि उन्हें इस बात का पहले से ही अंदेशा था कि सरबजीत के साथ इस तरह का वाकया पेश आएगा। बावजूद उसके उसकी सुरक्षा नहीं बढ़ाई गई। उन्होंने कहा कि वह सुरजीत सिंह की रिहाई पर भी खुश हुई थीं और उम्मीद जगी थी कि शायद सरबजीत की रिहाई भी हो सकेगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। दलबीर ने पाकिस्तान के मानवाधिकार कार्यकर्ता अंसार बर्नी पर भी कई संगीन आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि यदि बर्नी को मुंह मांगी कीमत दे दी गई होती तो शायद है कि उनका भाई आज जिंदा होता। इस बीच पाकिस्तान ने आधिकारिक रूप से बयान जारी कर सरबजीत की मौत की खबर दी है। बयान में कहा गया है कि सरबजीत गंभीर चोटों की वजह से डीप कोमा में था। डाक्टरों की कोशिशों के बावजूद उसकी जान नहीं बचाई सकी और बुधवार देर रात सरबजीत की मौत हो गई। बयान में सरबजीत की मौत की वजह दिल का दौरा पड़ना बताया गया है। बयान में कहा गया है कि पोस्टमार्टम के बाद सरबजीत के शव को भारतीय उच्चायोग को सौंप दिया जाएगा।