19 February 2019



राष्ट्रीय
यहां मिलेंगे इंटरकास्ट मैरिज करने पर 75 हजार रुपये
04-05-2013
एक तरफ हरियाणा में जहां अंतरजातीय विवाह करने पर वहां मौजूद खाप पंचायत वर और वधु वक्ष को सजा देने पर आमदा हो जाती है, वहीं पड़ोसी राज्य हिमाचल प्रदेश में इस तरह की शादियों को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने योजना के अंतर्गत अंतरजातीय विवाह करने वालों को दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि 25000 रुपये से बढ़ाकर 75000 रुपये कर दी है। प्रदेश की सरकार द्वारा उठाए गए इस तरह के कदम से राज्य में अंतरजातीय विवाह में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। पिछले चार साल में यहां पर 1,113 अंतरजातीय विवाह हुए हैं। साल 2009-10 में 232, 2010-11 में 300 और 2012-13 में 277 अंतरजातीय विवाह राज्य में संपन्न किए गए प्रदेश में 1994 में पहली बार इस तरह की योजना शुरू की गई थी। सरकार के मुताबिक प्रोत्साहन राशि के बढ़ा देने के फलस्वरूप राज्य में विभिन्न जातियों के बीच बढ़ रही दूरी को कम किया जा सकेगा। हालांकि यह प्रोत्साहन राशि निचले वर्ग की पुत्री को वधु और पुत्र को वर स्वीकार करने पर ही मिलती है। सामाजिक न्याय एवं सशक्तीकरण विभाग के अतिरिक्त निदेशक के मुताबिक, राज्य सरकार अनुसूचित जातियों की भलाई के लिए कई तरह की योजनाएं लाने की तैयारी कर रही है। राज्य में लगभग सात करोड़ अनुसूचित जाति और जनजाति से संबंधित लोग रहते हैं।