22 February 2019



राष्ट्रीय
रेल रिश्वत मामले में महेश तीन दिन की रिमांड पर
06-05-2013
रेलवे बोर्ड में सदस्य [स्टाफ] नियुक्ति में रिश्वत देने के आरोपी रेलवे बोर्ड के सदस्य महेश कुमार को सीबीआइ ने पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया। विशेष सीबीआइ जज स्वर्णकांता के समक्ष सीबीआइ ने कहा कि महेश कुमार पूरे प्रकरण में मुख्य आरोपी हैं। मामले का खुलासा करने के लिए उसे रिमांड पर लेने की आवश्यकता है। अदालत ने महेश को तीन दिन की सीबीआइ रिमांड पर भेज दिया। गौरतलब है कि सीबीआइ के मुताबिक, रेलवे में बोर्ड सदस्य नियुक्ति को लेकर 10 करोड़ रुपये की रिश्वत ली गई। इस मामले में रेल मंत्री पवन बंसल के भांजे समेत अब तक 11 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। सोमवार को सीबीआइ की ओर से लोक अभियोजक अक्षय गौतम ने अदालत को बताया कि महेश कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। महेश को मुंबई से गिरफ्तार किया गया था और सीबीआइ ने उन्हें ट्रांजिट रिमांड पर लेकर सोमवार को अदालत में पेश किया। महेश कुमार ने अदालत से अपील की कि उसे सीबीआइ रिमांड के दौरान घर का बना खाना खाने की अनुमति दी जाए। अदालत ने इससे इन्कार करते हुए कहा कि कस्टडी में आरोपी को घर का खाना खाने की अनुमति नहीं दी जा सकती।