19 February 2019



खेलकूद
..तो उस दिन मिलर की किस्मत अच्छी थी, इसलिए बरसे रन!
08-05-2013

मोहाली। किंग्स इलेवन पंजाब को आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर पर चमत्कारिक जीत दिलाने वाले युवा बल्लेबाज डेविड मिलर को भी भरोसा नहीं हो रहा था। उन्होंने उस पारी के लिए अपनी किस्मत को क्रेडिट दिया। मिलर ने कहा है कि अच्छी किस्मत के दम पर वह अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेल सके। दक्षिण अफ्रीका के 23 वर्षीय मिलर ने सोमवार को महज 38 गेंदों में नाबाद 101 रन बनाकर पंजाब को 191 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए छह विकेट से शानदार जीत दिलाई। मिलर की उस जबरदस्त पारी का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें अपनी उस अद्भुत पारी के बारे में बताते हुए मिलर ने कहा, \'मैंने अपनी पारी का पूरा मजा लिया और अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाने की पूरी कोशिश की। शुरुआती 10-15 गेंद मैं संभलकर खेलना चाहता था, लेकिन उसके बाद तेज खेलना जरूरी था क्योंकि हमें 12 रन प्रति ओवर से लक्ष्य का पीछा करना था।\' बेंगलूर के कप्तान विराट कोहली ने उस समय उन्हें जीवनदान दिया, जब वह 41 रन के स्कोर पर थे। उस जीवनदान के बारे में मिलर ने कहा, \'मैंने शुरू में कुछ गेंद छोड़ी और मुझे जीवनदान भी मिला। किस्मत ने मेरा साथ दिया और उसके बाद मैंने मुड़कर नहीं देखा।\' जानिए मिलर की पारी के बारे में विजय माल्या का है क्या कहन बेंगलूर जैसी मजबूत टीम पर शानदार जीत दर्ज करने के बाद पंजाब के कप्तान डेविड हसी भी फूले नहीं समा रहे हैं। उस जीत पर बालते हुए उन्होंने कहा कि \'इस जीत से टीम का मनोबल बढ़ा है। इस तरह की पारी (मिलर के नाबाद 101 रन) से आत्मविश्वास बढ़ता है। गेंदबाजों की भी तारीफ करनी होगी जिन्होंने अपने काम को बखूबी अंजाम दिया।\' पढें : अंतिम 5 ओवर तक पलकें नहीं झपकीं गौरतलब है कि खराब फॉर्म के कारण किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने वह मुकाबला नहीं खेला था, जिसके कारण डेविड हसी को टीम की कमान सौंपी गई थी। मिलर की तूफानी पारी की बदौलत ने पंजाब ने आखिरी पांच ओवरों में 99 रन बनाए थे।