15 February 2019



राष्ट्रीय
खुर्शीद पहुंचे चीन, अपने समकक्ष और प्रधानमंत्री से मिलेंगे
09-05-2013

बीजिंग। आज से भारतीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद चीन दौरे पर हैं। खुर्शीद चीन पहुंच चुके हैं। खुर्शीद वहां अपने चीन के समकक्ष वांग ई से वार्ता करेंगे और प्रधानमंत्री ली केकियांग से भी मिलेंगे। मार्च में प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद ली इसी माह पहली विदेश यात्र के दौरान भारत आने वाले हैं। इसी बीच चीन ने बुधवार को भारत से सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए शीघ्र व उचित ढंग से सीमा मुद्दा सुलझाने का आह्वान किया। लद्दाख की दौलत बेग ओल्डी (डीबीओ) में हाल में अपनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की घुसपैठ से उपजे विवाद के मद्देनजर चीन का यह बयान आया है। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुंगइंग ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सीमा मुद्दे का उचित और समय से निपटारे में दोनों देशों का हित है और यही दोनों देशों की इच्छा भी है। हुआ से पंद्रह दिनों तक चला सीमा पर गतिरोध किस तरह समाप्त हुआ इसका ब्योरा मांगा गया था। जवाब में उन्होंने कहा कि घटनाओं से निपटा जाना भी दिखाता है कि दोनों देश सीमा क्षेत्र में सुरक्षा एवं शांति को बनाए रखना चाहते हैं और यह शांति पूर्ण समाधान संयुक्त प्रयासों का नतीजा भी है। भारतीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के गुरुवार से दो दिवसीय चीन दौरे के पहले हुआ ने यह बात यहां मीडिया ब्रीफिंग में कही। उन्होंने कहा, \'हम सीमाई इलाकों में भारत की ओर से शांति एवं स्थिरता बनाए रखने और चीन एवं भारत के संबंधों में ठोस एवं स्थायी विकास के लिए काम करना पसंद करेंगे।\' खुर्शीद की यात्रा के बारे में हुआ ने कहा कि वह वांग से वार्ता करेंगे और चीन के अन्य नेताओं से भी मिलेंगे। वह किन-किन नेताओं से मिलेंगे इसके बारे में प्रवक्ता ने कुछ नहीं बताया। उन्होंने उम्मीद जताई कि खुर्शीद की यात्र से द्विपक्षीय संबंधों में और मजबूती आएगी। हुआ ने डीबीओ की घटना के मद्देनजर दोनों पक्षों के सीमा मुद्दा सुलझाने के महत्व पर जोर दिया। खुर्शीद की यात्रा को ली की भारत यात्रा के प्रस्तावना के रूप में देखा जा रहा है। पूर्व की योजना के मुताबिक चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग को इस माह के तीसरे हफ्ते मुंबई और दिल्ली की यात्रा पर आना है और इसके बाद वह पाकिस्तान और जर्मनी जानेवाले हैं।