17 February 2019



प्रमुख समाचार
सहकारी संस्थाओं के 61 हजार से अधिक सदस्यों को मिला सहकारिता का प्रशिक्षण
17-05-2013

प्रदेश में सहकारी आंदोलन को जमीनी स्तर पर मजबूती दिये जाने के लिये सहकारिता विभाग द्वारा सहकारी संस्थाओं से जुड़े पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को सहकारिता के सिद्धांतों का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। पिछले वर्ष विभिन्न सहकारी संस्थाओं के 61 हजार 529 पदाधिकारी-कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया गया। मध्यप्रदेश राज्य सहकारी संघ सहकारी समितियों के आधुनिकीकरण के लिये कम्प्यूटर प्रशिक्षण पर भी विशेष ध्यान दे रहा है।

राज्य के सहकारी प्रशिक्षण केन्द्र जबलपुर, इंदौर, छतरपुर जिले के नौगाँव एवं शाजापुर जिले के आगर-मालवा के प्रशिक्षण केन्द्रों में नियमित रूप से सहकारी शिक्षा प्रशिक्षण सत्र आयोजित कर पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रशिक्षण के दौरान पदाधिकारियों को सहकारी समिति के गठन, सहकारी संस्थाओं के संचालन, लेखा एवं प्रबंध आदि विषयों पर विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रदेश के आदिवासी बहुल जिलों में 21 हजार 113 पदाधिकारी को सहकारिता से जुड़े विभिन्न पहलु की जानकारी दी गई। प्रदेश में लोकतांत्रिक साधन के रूप में पारस्परिक सहायता पर आधारित सहकारी संस्थाओं का गठन कर समाज के कमजोर वर्गों के आर्थिक विकास के लिये कार्य किया जा रहा है। सहकारी संस्थाएँ फसल ऋण, उत्तम खाद बीज वितरण कार्य, सार्वजनिक वितरण प्रणाली जैसे महत्वपूर्ण दायित्वों को निभा रही हैं। राज्य सहकारी संघ ने वर्ष 2013-14 में भी प्रशिक्षण देने का व्यापक कार्यक्रम तैयार किया है।