19 February 2019



खेलकूद
श्रीसंत ने पहले जमाई थी धौंस, अब जेल में रो-रोकर बुरा हाल है
20-05-2013

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के छठे सत्र में स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में फंसे राजस्थान रॉयल्स के एस. श्रीसंत का स्पेशल सेल में रो-रोकर बुरा हाल है। गिरफ्तारी के वक्त पुलिस अधिकारियों को मुख्यमंत्री की धौंस देने वाले श्रीसंत अब साकेत स्थित स्पेशल सेल में काफी परेशान हैं। उन्हें नींद नहीं आ रही है।

पढि़ए : जज ने कैसे चुटकियों में श्रीसंत की बोलती कर दी बंद

आलम यह है कि इस बुरे काम में साथ देने वाले उनके दो साथियों अजीत चंडीला और अंकित चव्हाण से बिलकुल अलग रखा गया है। सूत्रों के अनुसार वे खाना भी ठीक तरीके नहीं खा पा रहे हैं। भावुक स्वभाव के श्रीसंत टूट चुके हैं और पुलिस भी अब उनके इसी कमजोरी का फायदा उठाना चाह रही है।

पढ़ें : रात 1.30 बजे कार में तीन लड़कियों के साथ थे श्रीसंत

पांच दिनों की पुलिस रिमांड पर चल रहे श्रीसंत को पुलिस के सवालों का जवाब देना मुश्किल पड़ रहा है। पूछताछ के दौरान ही वे यह कह चुके हैं कि उनसे बहुत बड़ी गलती हो गई। जीजू जनार्दन ने उन्हें फंसा दिया। वे उसके कहने पर ही लालच में आ गए और क्रिकेट से गद्दारी कर बैठे। गौरतलब है कि श्रीसंत ने 40 लाख रुपये में अपना एक ओवर फिक्स किया था, जिसके प्रमाण का दावा दिल्ली पुलिस कर रही है।

जानिए : कौन है जीजू जनार्दन, श्रीसंत से कैसा है रिश्ता

हम आपको यह बता दें कि जब दिल्ली पुलिस ने मुंबई में कार रोककर श्रीसंत को गिरफ्तार किया था तो उन्होंने अधिकारियों से काफी बहस की थी। काफी मशक्कत के बाद श्रीसंत को कार से उतारा गया। कार से उतरते ही उन्होंने पुलिस को केरल के मुख्यमंत्री से बात करने को कहा, लेकिन पुलिस ने ऐसा नहीं किया। इसके बाद उन्होंने कहा, चलो, किसी भी मुख्यमंत्री से बात कर लो, लेकिन पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी और उन्हें गिरफ्तार कर दिल्ली ले आई।

पढ़ें : श्रीसंत, चव्हाण की शादी भी टूटने के कगार पर

अब स्पेशल सेल में श्रीसंत का हाल बहुत बुरा है। सूत्रों के अनुसार वे हमेशा रोते रहते हैं। पुलिस उनसे यह जानने का प्रयास कर रही है कि कहीं इस स्पॉट फिक्सिंग में कोई और खिलाड़ी तो शामिल नहीं। वहीं, दूसरी तरफ दिल्ली के पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने बताया कि एस श्रीसंत, अजीत चंदीला और अंकित चह्वाण से पूछताछ जारी है और इस मामले की जांच में महाराष्ट्र से कई लोगों के नाम सामने आ सकते हैं। उन्होंने हालांकि इस बारे में और जानकारी देने से इन्कार कर दिया। उन्होंने बताया कि तीनों खिलाड़ियों को मुंबई से जल्दबाजी में गिरफ्तार किया गया था और मुंबई पुलिस द्वारा जब्त किए गए उनके लैपटॉप और आइपैड से कई अहम खुलासे हो सकते हैं।

स्पॉट फिक्सिंग से जुड़े और खुलासे जानने के लिए क्लिक करें

अभी ताजा समाचार ये है कि बेटे अंकित चव्हाण का हाल जानने उनके पिता साकेत स्थित स्पेशल सेल पहुंचे हैं। चव्हाण मुंबई के निवासी हैं और 2 जून को उनकी शादी तय है।