19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
हार के लिए बाहरी ताकतें जिम्मेदार: जरदारी
22-05-2013
पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी हाल में संपन्न आम चुनाव में अपनी पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी [पीपीपी] की हार से बौखला गए हैं। उन्होंने पीपीपी की हार के लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ताकतों को जिम्मेदार ठहराया है। पंजाब प्रांत में पीपीपी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले नेताओं के साथ अपने घर पर बैठक के दौरान जरदारी ने दावा किया कि कुछ बाहरी ताकतें नहीं चाहती थीं कि पार्टी सत्ता में वापस लौटे। उन्होंने कहा, \'ये ताकतें पीपीपी सरकार की ओर से अन्य देशों के साथ किए गए समझौतों से खुश नहीं थी।\' पीपीपी नेताओं का मानना है कि अमेरिका पूर्ववर्ती सरकार के ईरान के साथ गैस पाइपलाइन और अरब सागर स्थित सामरिक महत्व के ग्वादर बंदरगाह का नियमन चीनी कंपनी को सौंपने के समझौते से खुश नहीं था। जरदारी ने कहा कि सितंबर में राष्ट्रपति के तौर पर अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद वह राजनीति में सक्रिय होंगे। चुनाव हारने वाले पीपीपी उम्मीदवारों ने आरोप लगाया कि पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और राजा परवेज अशरफ ने पार्टी को नुकसान पहुंचाया। एक उम्मीदवार ने कहा कि गिलानी के कुशासन और अशरफ पर भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते 11 मई को हुए चुनाव में हमें हार का सामना करना पड़ा। आज अस्पताल से इमरान को मिलेगी छुट्टी  लाहौर। चुनाव प्रचार के दौरान घायल हुए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ [पीटीआइ] के मुखिया इमरान खान अपनी रीढ़ के फ्रैक्चर से तेजी से उबर रहे हैं। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि उन्हें बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। शौकत खानम अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया उन्हें रीढ़ की हड्डी के सहारे के लिए ब्रेस लगाया गया है। वह मंगलवार को करीब 300 मीटर तक चले फिरे। हादसे के दो हफ्ते बाद यह पहला मौका है जब वह बिना किसी मदद के सीधे खड़े हो पाए। खान को करीब चार से छह महीने तक ब्रेस को पहनना पड़ेगा। हाल में संपन्न हुए प्रांतीय चुनाव में अशांत खैबर पख्तूनख्वा में पीटीआइ सरकार बनाएगी।