18 February 2019



प्रादेशिक
विषाक्त भोजन से चार आदिवासियों की मौत
23-05-2013
रामपुर बाघेलान तहसील अंतर्गत ग्राम रघुनाथपुर में भोजन करने के बाद एक आदिवासी परिवार के चार लोगों की हालत बिगड़ गई। चारों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 70 वर्षीय वृद्ध, उनकी पत्नी और बेटी की मौत हो गई। सीएमओ डॉ. डीएन गौतम ने विषाक्त से मौत होने की बात कही है। ग्रामीणों के मुताबिक मंगलवार को गांव के भूपेन्द्र कोल [70 वर्ष] ने अपनी पत्नी, बेटी और दामाद के साथ दोपहर का खाना खाया। खाना खाने के थोड़ी देर बाद ही सभी को उल्टी-दस्त शुरू हो गए। इसके बाद उन्हें गांव से जिला अस्पताल लाया गया। रात 12 बजे के बाद एक-एक घंटे के अंतराल में भूपेन्द्र कोल उसकी पत्नी चंद्रवती और बेटी सुंदरबाई [23 वर्ष] की मौत हो गई। तीन वर्षीय मासूम की मौत तीनों की मौत जानकारी मिलने पर बुधवार सुबह गांव से आधा दर्जन लोग अस्पताल पहुंचे। अस्पताल में कुछ देर रकने के बाद इन्हें भी उल्टी-दस्त शुरू हो गए। बाद में इन्हें भी जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। इनमें से तीन वर्षीय बच्ची कल्पना की दोपहर में मौत हो गई, जबकि राजकुमारी कोल, रामजी रावत, मानवती और कुम्मू की हालत गंभीर बनी हुई है।