18 February 2019



खेलकूद
अड़ियल श्रीनिवासन, 'दामाद' कैसे बने सीईओ, नहीं है मालूम
26-05-2013

कोलकाता। आईपीएल 6 स्पॉट फिक्सिंग मामले में दामाद गुरुनाथ मयप्पन की गिरफ्तारी के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में इस्तीफा देने से साफ-साफ इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वे किसी भी कीमत पर इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिन मेरे लिए मुश्किल में बीते। एक पिता और ससुर के तौर पर ये वक्त मेरे लिए काफी कठिन थे।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बीसीसीआई पूरे फिक्सिंग मामले पर निष्पक्ष जांच करा रही है। दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। फिलहाल मयप्पन को सस्पेंड कर दिया गया है। उन्होंने यह कहा कि मैं यह बता देना चाहता हूं कि मयप्पन की नियुक्ति में मेरा कोई रोल नहीं था। उसे चेन्नई सुपरकिंग्स ने भी सस्पेंड कर दिया है।

इसके अलावा इस्तीफा देने से इंकार करते हुए श्रीनिवासन ने कहा कि \'मैं बीसीसीआई का चुना गया अध्यक्ष हूं। मैं निष्पक्ष होकर काम करता हूं और आगे भी करता रहूंगा। मैंने कुछ गलत नहीं किया। मुझको लेकर बीसीसीआई में कोई मतभेद नहीं है। बोर्ड के किसी भी सदस्य ने मुझसे इस्तीफा नहीं मांगा। बीसीसीआई को मुझपर पूरा भरोसा है। जहां तक रही बात मयप्पन की जांच की तो उसमें मैं शामिल नहीं। पूरे मामले पर मेरे ऊपर किसी तरह का आरोप नहीं लगा है। अगर जांच की बात करें तो वह कमीशन पर ही छोड़ देनी चाहिए।\'

उनके इस्तीफे की अटकलों के सवाल पर श्रीनिवासन ने साफ-साफ कहा कि उनके खिलाफ मीडिया ट्रायल चल रहा है, लेकिन मैंने कुछ गलत किया ही नहीं है और किसी ने मुझसे इस्तीफा नहीं मांगा है। क्रिकेट में इंडिया सीमेंट के शामिल होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इंडिया सीमेंट पिछले 50 सालों से क्रिकेट में है। जहां तक रही बात चेन्नई सुपरकिंग्स की तो उसपर किसी तरह का आरोप नहीं लगा है। मयप्पन का मामला अनुशासन समिति के पास है। फिक्सिंग जांच में वे पुलिस का सहयोग करते रहेंगे।

जब उनसे यह पूछा गया कि एनसीपी उनसे इस पूरे मामले पर इस्तीफे की मांग कर रहा है तो उन्होंने कहा कि वे आखिर एनसीपी का कहना क्यूं माने। वे उसके कहने पर इस्तीफा क्यूं दें। दबाव में इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं उठता।

इससे पहले श्रीनिवासन के इस्तीफे के मुद्दे पर बोर्ड के अधिकारियों की यहां एक बैठक हुई। इस बैठक में राजीव शुक्ला, संजय जगदाले, अरुण जेटली और खुद श्रीनिवासन मौजूद थे। बैठक से पहले बीसीसीआई उपाध्यक्ष अरुण जेटली ने भी श्रीनिवासन से मुलाकात की। गौरतलब है कि शनिवार को मदुरै से मुंबई पहुंचने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए श्रीनिवासन ने कहा था कि वे इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने कोई गलती नहीं की है और उन्हें कोई इस्तीफा देने के लिए मजबूर नहीं कर सकता।

बीसीसीआई ने गुरुनाथ मयप्पन को फिक्सिंग में शामिल होने के आरोपों की जांच तक चेन्नई की टीम से निलंबित कर दिया है, जबकि चेन्नई सुपरकिंग्स ने भी उन्हें सस्पेंड कर दिया है। इसके तहत मयप्पन अब क्रिकेट की किसी भी गतिविधियों में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। गौरतलब है कि शनिवार को मुंबई के किला कोर्ट ने मयप्पन को चार दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा है।