21 February 2019



प्रादेशिक
आडवाणी व मोदी का नाम लेने से बचते रहे तोगड़िया
10-06-2013
विश्व हिन्दू परिषषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया राजधानी प्रवास के दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी और वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के बारे में चर्चा करने से बचते रहे। कुरेदने पर उन्होंने इतना भर कहा कि देशहित और विचारधारा पहले है व्यक्ति बाद में, इसलिए राष्ट्रहित और हिन्दू हित में जो भी काम करेगा, विहिप उसका खुलकर समर्थन करेगा।

हरदा में बजरंग दल के कार्यक्रम से लौटते हुए तोग़ि़डया कुछ देर भोपाल भी रके। पत्रकारों से चर्चा के दौरान गोवा में चल रही भाजपा कार्यसमिति, आडवाणी और मोदी के संदर्भ में हुए सवालों को वे टालते ही रहे। उन्होंने इतना ही कहा कि विहिप का स्टैंड बिल्कुल स्पष्ट है देशहित और विचारधारा के बाद ही व्यक्ति का महत्व है। इसलिए जो भी हिन्दुत्व की बात करेगा, हम उसके समर्थन में ख़़डे होंगे।

चाहे वह कोई भी हो, अपनी बात को स्पष्ट करते हुए तोगड़िया ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने और धारा 370 हटाने में यदि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय ¨सह भी आगे आएंगे तो विहिप उनके पक्ष में भी उतनी ही शिद्दत से खड़ा हो जाएगा।

उत्तर प्रदेश में 16 मुस्लिमों के विरुद्ध चल रहे आपराधिक मामले सरकार द्वारा वापस लेने की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि इसका देश भर में विरोध होना चाहिए। उप्र सरकार ने ऐसा करके कानून और आईपीसी का अपमान किया है। चर्चा के दौरान उन्होंने हरिद्वार में 11-12 जून को होने वाले संत-समागम का ब्यौरा भी दिया।

उन्होंने बताया कि अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर विहिप प्रतिबद्ध है, देश भर में इस आंदोलन के तहत राम नाम जप अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही यह जानकारी भी दी कि दक्षिण भारत में दुर्गा वाहिनी द्वारा लड़कियों को आत्मरक्षा की तालीम दी जाएगी, यह प्रशिक्षण मप्र में 10 से 16 जून तक आयोजित किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां की जा रही हैं।