19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
महिला हो सकती है मेरी उत्तराधिकारी: दलाई लामा
13-06-2013
मेलबर्न। तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा ने कहा है कि उनका उत्तराधिकारी कोई महिला भी हो सकती है क्योंकि महिलाओं में एक नेता बनने के लिए जरूरी सारी विशेषताएं होती हैं। हाल ही में एक विपक्षी नेता द्वारा प्रधानमंत्री जूलिया गिलार्ड के खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणी के बाद लिंग भेद पर छिड़ी तीखी बहस के बीच लामा का यह बयान आया है। अपनी दस दिन की ऑस्ट्रेलिया यात्रा के दौरान पत्रकारों से बातचीत में दलाई लामा ने कहा, अगर ऐसी परिस्थितियां बनती हैं कि कोई महिला इस पद के लिए ज्यादा उपयुक्त हुई, तो निर्विवाद रूप से उसे ही आगे लाया जाएगा। नोबेल पुरस्कार विजेता दलाई लामा सिडनी, मेलबर्न, एडिलेड और डर्विन में अपना व्याख्यान देंगे। लिंग भेद पर छिड़ी बहस पर प्रतिक्रिया में 77 वर्षीय लामा ने कहा, \'दुनिया असमानता के नैतिक संकट का सामना कर रही है। समाज के प्रति ज्यादा सहानुभूति व दया की भावना रखने के मामले में महिलाएं कहीं आगे हैं। वे दूसरों के सुख-दुख के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं।\' उन्होंने कहा, \'मेरे पिता खुद बहुत गुस्से वाले थे। मुझे कई बार उनसे बहुत मार पड़ी। लेकिन मेरी मां बहुत ही अच्छी और दयालु थी।\'