19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
अमेरिकी अदालत ने दी स्कूल में योग सिखाने की इजाजत
03-07-2013

वाशिंगटन। अमेरिका की एक अदालत ने दक्षिणी कैलिफोर्निया के एक स्कूल में पाठ्यक्रम के तहत योग सिखाने की इजाजत दे दी है। साथ ही छात्रों के माता-पिता द्वारा दायर उस याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें प्राचीन भारतीय अभ्यास को हिंदू धार्मिक भावनाओं को प्रोत्साहित करने वाला बताया था। सैन डियागो सुपीरियर कोर्ट के न्यायाधीश जॉन मेयर ने सोमवार को कहा कि एंसिनीतास यूनियन स्कूल डिस्ट्रिक का योग कार्यक्रम किसी धर्म विशेष का समर्थन नहीं करता। सैन डियागो के इस स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों के अभिभावकों के एक वर्ग ने दायर याचिका में कहा था कि स्कूल अष्टांग योग के जरिए धार्मिक मान्यताओं को बढ़ावा दे रहा है। याचिका को खारिज करते हुए मेयर ने योग से भारत के जुड़ाव और दर्शन के बारे में बताते हुए अपने फैसले की लगभग दो घंटे तक व्याख्या की। जोइस फाउंडेशन द्वारा वित्त पोषित एंसिनीतास के आधे घंटे के योग कार्यक्रम में छात्रों को प्राणायाम और आसन अभ्यास कराए जाते हैं। एंसिनीतास में पढ़ने वाले छात्र के माता-पिता स्टीफेन और जेनिफर सेडलॉक के वकील डीन ब्रोएलेस ने कहा है कि वह इस मामले में दोबारा अपील करेंगे।