15 February 2019



राष्ट्रीय
गाने की सिर्फ आवाज तेज की और दोस्तों ने मार डाला
03-07-2013

मुंबई। अर्जुन अपने पांच दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने निकला था, लेकिन उसे नहीं पता था कि वे जिन दोस्तों के साथ जा रहा है, वे उसकी जिंदगी ही खत्म कर देंगे, वो भी एक मामूली सी बात पर। दरअसल, कार में तेज संगीत बजाने पर हुए विवाद में पांच दोस्त ने मिलकर अपने 21 वर्षीय मित्र की जान ले ली। पुलिस ने दो आरोपियों को पकड़ लिया है, जबकि मुख्य आरोपी समेत तीन अन्य अभी फरार हैं। मामला सोमवार सुबह लगभग 8.30 बजे तब सामने आया जब एक मोटर स्कूल ड्राइवर ने छात्र का शव विक्रोली के नजदीक पूर्वी एक्सप्रेस मार्ग पर पड़ा देखा। हत्या के बाद आरोपी शव को वहां फेंक गए थे। घाटकोपर पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक राजकुमार ने बताया कि 21 वर्षीय अर्जुन सुदाम की गुमशुदगी की रिपोर्ट उसके परिजनों द्वारा रविवार शाम 8 बजे दर्ज करवाई गई थी। परिजनों के अनुसार अर्जुन शाम पांच बजे से बिना की सूचना के गायब था। पुलिस ने अर्जुन के मोबाइल कॉल ट्रेस किए। जिसमें पता चला कि अर्जुन को आखिरी कॉल शुभम ने की थी। जिसके बाद पुलिस ने शुभम को उसके घर से पकड़ लिया। शुभम ने पुलिस को बताया कि अर्जुन उसके माध्यम से मोबाइल बेचना था, परंतु पूछताछ के दौरान शुभम टूट गया और उसने अपना अपराध कबूल लिया। जिसके बाद पुलिस ने भटवाड़ी से एक अन्य आरोपी हर्षद को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने दोनों से मिली जानकारी के बाद हत्या में प्रयुक्त कार को बरामद कर विक्रोली पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने सभी अभियुक्तों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 और 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। दोनों अभियुक्त को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस मुख्य अभियुक्त नयन समेत मयूर और अक्षय की तलाश कर रही है। पुलिस ने बताया कि इंडिगो कार में पिकनिक मानने जा रहे दोस्तों के बीच झगड़ा तब हुआ जब रेडियो पर आ रहे गाने के दौरान आवाज को तेज कर दिया गया। विवाद इतना बढ़ा कि नयन ने अर्जुन का तांबे की तार से गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। जिसके बाद पांचों दोस्त शव को सड़क किनारे फेंक कर फरार हो गए। हत्या के पीछे प्रेम त्रिकोण! पुलिस ने बताया कि हत्या के पीछे प्रेम का मामला भी हो सकता है। नयन को अर्जुन से जलन थी, क्योंकि वह जिस लड़की को पिछले एक साल से पसंद करता था उसका कथिततौर पर अर्जुन से चक्कर चल रहा था। पुलिस हत्या के सभी कोणों पर जांच कर रही है। हत्या का असली कारण तब सामने आएगा जब सभी आरोपी पकड़े जाएंगे। (मिड डे)