19 February 2019



राष्ट्रीय
एएमयू में छात्राओं को सलवार-कमीज ही पहनने का फरमान
25-07-2013
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी [एएमयू] के अब्दुल्ला ग‌र्ल्स हॉल [हॉस्टल] में बसी \'आधी आबादी\' को अभी आधी-अधूरी ही आजादी हासिल हो सकी है। आजादी इतनी है कि वे हॉल में कहीं भी घूमें, पसंदीदा खाना खाएं लेकिन बात कपड़ों की आएगी तो कानून प्रोवोस्ट का चलेगा। यहां की छात्राओं को सिर्फ सलवार-कमीज और दुपट्टा ही पहनना होगा। हॉल से बाहर जाने पर भी मनचाहे कपड़ों की इजाजत नहीं होगी। हॉल की प्रोवोस्ट ने नोटिस चस्पा करते हुए साफ लिखा है कि आदेश की अवहेलना पर अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी। पांच सौ रुपये जुर्माना भी लगाया जा सकता है। प्रोवोस्ट के नोटिस के तीसरे बिंदु में साफ लिखा है, \'हॉस्टल में रहने और बाहर जाने के दौरान उचित और लज्जावान दिखने वाला लिबास सलवार-कमीज दुपट्टे के साथ पहनें।\' ये नोटिस अब्दुल्ला हॉल के गेट, दीवार और नोटिस बोर्ड पर चस्पा किया गया है। पिछले शिक्षा सत्र तक यहां कपड़ों को लेकर किसी तरह का निर्देश नहीं था। यहां की छात्राएं हॉल में रहते वक्त मनचाहे लिबास पहन सकती थीं। बाहर जाते वक्त भी कपड़ों को लेकर रोक-टोक नहीं थी। यहां की कुछ छात्राएं ऐसे निर्देश को आजादी का हनन बता रही हैं। वे इंतजामिया के डर से कोई खुलकर नहीं बोल रहा है।