18 February 2019



प्रमुख समाचार
डॉव केमिकल को कोर्ट का नोटिस
25-07-2013
जिला अदालत के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एसके पांडे ने मंगलवार को गैस कांड की आरोपी नंबर 2 कंपनी यूनियन कार्बाइड की नई मालिक डॉव केमिकल को नोटिस जारी किया है। इसमें डॉव केमिकल से पूछा गया है कि क्यों न आपको गैस कांड मामले में पार्टी बना दिया जाए। इस नोटिस को तामील कराने में की गई कार्रवाई के संबंध में सीबीआई को 21 अगस्त को कोर्ट में जवाब देना है। डॉव को नोटिस जारी किए जाने पर गैस संगठनों से खुशी जाहिर की है। भोपाल गैस पी़ि़डत महिला उद्योग संगठन, भोपाल ग्रुप फॉर इन्फॉरमेशन एंड एक्शन एवं भोपाल गैस पी़ि़डत संघर्ष सहयोग समिति दिल्ली ने सीजेएम कोर्ट जनवरी, 2013 को आवेदन देकर मांग की थी कि डॉव को नोटिस जारी करने के खिलाफ हाईकोर्ट का स्टे समाप्त हो गया है, इसलिए डॉव केमिकल को दोबारा नोटिस जारी किए जाएं। मंगलवार को सीजेएम ने डॉव केमिकल को नोटिस जारी कर दिया। अब सीबीआई को इस संबंध में 21 अगस्त को कोर्ट में जवाब देना है कि उन्होंने नोटिस जारी करने के संबंध में क्या किया? सीजेएम ने डॉव केमिकल को आवेदन पत्र की प्रति के साथ सूचना जारी करने के आदेश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि 1984 में 2-3 दिसंबर की दरमियानी रात हुए गैस कांड में मुख्य आरोपी यूनियन कार्बाइड कंपनी के तत्कालीन चेयरमैन वारेन एंडरसन हैं और आरोपी नंबर दो खुद यूनियन कार्बाइड कंपनी है। वर्ष 1992 से वारेन एंडरसन व यूनियन कार्बाइड कंपनी फरार चल रही हैं। यूनियन कार्बाइड को डॉव कैमिकल ने खरीद लिया है। सीजेएम कोर्ट ने इससे पहले वर्ष 2004 में भी डॉव कैमिकल को नोटिस जारी किया था, लेकिन इसके विरुद्ध डॉव ने हाईकोर्ट से स्टे हासिल कर लिया था, जो गत वर्ष अक्टूबर में समाप्त हो गया था।