16 February 2019



राष्ट्रीय
अमर व अमिताभ पर दर्ज मुकदमे की वापसी का रास्ता साफ
30-07-2013
कानपुर। राज्यसभा सदस्य अमर सिंह और सिने स्टार अमिताभ बच्चन के खिलाफ बाबूपुरवा थाने में दर्ज मुकदमा वापस लिए जाने का रास्ता लगभग साफ हो गया है। शासन द्वारा मनी लॉड्रिंग के आरोप में दर्ज इस मुकदमे को वापस लेने के लिए प्रशासन ने 13 बिंदुओं पर सूचना मांगी थी। अभियोजन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी ने मुकदमा वापस लिए जाने योग्य मानते हुए अपनी रिपोर्ट शासन को भेज दी है। चकेरी थाना क्षेत्र निवासी शिवाकांत त्रिपाठी ने 15 अक्टूबर 2009 को बाबूपुरवा थाने में उप्र विकास परिषद के पूर्व अध्यक्ष अमर सिंह एवं फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन, अमर सिंह की पत्‍‌नी समेत चार लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। उनका आरोप था कि अमर सिंह ने उत्तर प्रदेश राज्य विकास परिषद के अध्यक्ष पद पर रहते हुए खुद की कंपनी को करोड़ों रुपये का लाभ पहुंचाया था। शिवाकांत त्रिपाठी ने अमर सिंह, अमिताभ बच्चन व अन्य आरोपियों पर इनर्जी डेवलेपमेंट कम्पनी लि., पंकजा आर्ट एण्ड क्रेडिट लि., ईडीसीएल पावर प्रोजेक्ट लि., ईडीएल इंफ्रास्टेक्चर लि., इस्टर इंडिया केमिकल लि. सर्वोत्तम कैप्स लि. आदि कंपनियों के जरिए मनी लॉड्रिंग करने का आरोप लगाया था। शिवाकांत का आरोप था कि अमर सिंह ने लोक सेवक होते हुए गलत ढंग से धन अर्जित किया। शासन ने मई माह में मुकदमा वापस करने के लिए 13 बिंदुओं पर डीएम से रिपोर्ट मांगी थी। सूत्रों की माने तो जिलाधिकारी ने शासन को रिपोर्ट भेज दी है। ऐसे में मुकदमा वापसी की राह आसान होती दिख रही है।