17 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
राष्ट्रपति चुनाव: मुगाबे की पार्टी ने किया जीत का दावा
01-08-2013

जोहानिसबर्ग। जिंबाब्वे के राष्ट्रपति राबर्ट मुगाबे की पार्टी जेडएएनयू-पीएफने राष्ट्रपति चुनावों में जीत का दावा किया है, लेकिन उनके प्रतिद्वंद्वी प्रधानमंत्री मॉर्गन स्वानगिराई ने कहा है कि चुनाव में धोखाधड़ी की गई है। अमेरिका ने भी चुनावों की विश्वसनीयता पर चिंता व्यक्त की है। जबकि अन्य विरोधी पार्टियां मतदाताओं की भूमिका पर सवाल उठा रही हैं। दक्षिण अफ्रीकी देश जिंबाब्वे में बुधवार को राष्ट्रपति चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न हुए थे। कुछ पार्टियों का कहना है कि चुनाव नतीजे आने के बाद देश में वर्ष 2008 के चुनावों की तरह ही हिंसा भड़क सकती है। जिंबाब्वे में चुनाव के नतीजे समय सीमा से पहले जारी करना कानूनी रूप से अपराध है। वहीं पुलिस ने कहना है कि चुनाव के संबंध में पूर्वानुमान लगाने वालों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। चुनाव संपन्न होने के पांच दिन बाद नतीजे घोषित किए जाएंगे। ब्रिटेन से 1980 में आजादी मिलने के बाद से मुगाबे ही जिंबाब्वे का राष्ट्रपति पद संभाल रहे हैं। 89 वर्षीय मुगाबे को इस बार फिर प्रधानमंत्री मॉर्गन स्वानगिराई ने चुनौती दी थी। एमडीसी पार्टी के 61 वर्षीय मॉर्गन पहले भी दो बार राष्ट्रपति चुनाव हार चुके हैं। जेडएएनयू-पीएफ के एक वरिष्ठ सदस्य ने बताया, \'हमने चुनाव जीत लिया है। मॉर्गन की पार्टी पिछड़ गई है।\' वहीं सत्तारूढ़ पार्टी के दावों पर प्रतिक्रिया देते हुए एमडीसी पार्टी ने चुनावों के दौरान धांधली की बात कही। एमडीसी इस मुद्दे पर पार्टी की आपातकालीन बैठक बुला सकती है।