17 February 2019



प्रमुख समाचार
रैगिंग मामले में प्रोफेसर, चार छात्राएं गिरफ्तार
09-08-2013
आरकेडीएफ कॉलेज की छात्रा अनीता शर्मा को खुदकुशी के लिए मजबूरी करने वाले प्रोफेसर और चार सीनियर छात्राओं को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें गुरुवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट एके छापरिया की अदालत में पेश किया गया। जहां से पांचों को 22 अगस्त तक न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक रैगिंग से परेशान होकर आत्महत्या की घटना को गृहमंत्री ने गंभीरता से लिया। उन्होंने एसपी को चेतावनी दी थी कि शाम तक हर हाल में आरोपियों की गिरफ्तारी हो जानी चाहिए। वरना वे जिम्मेदार पुलिस अफसर के खिलाफ कार्रवाई करने से नहीं चूकेंगे। इसके बाद पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मच गया। कमलानगर पुलिस ने तुरंत पांचों आरोपियों को हिरासत में ले लिया।

गौरतलब है कि पीएंडटी कॉलोनी के पास स्थित जीवन विहार कॉम्पलेक्स में रहने वाली 18 वर्षीय अनीता पिता कमलेश शर्मा आरकेडीएफ कॉलेज में बीफार्मा सेकंड ईयर की छात्रा थी। उसने रैगिंग से परेशान होकर मंगलवार की रात अपने घर में फांसी लगा ली थी।

कमलानगर पुलिस ने छात्रा के कमरे से तीन पेज का सुसाइड नोट बरामद किया था, जिसमें उसने कॉलेज के प्रोफेसर मनीष गुप्ता और बी-फार्मा की छात्रा दीप्ति पिता रमेश सोलंकी निवासी अयोध्यानगर बायपास, निधि पिता अशोक मरगे बालाघाट, कीर्ति पिता रघुवीर गौर गैरतगंज और दिव्यांशी पिता विजय शर्मा कोतवाली चौराहा सीहोर को मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया था। ये छात्राएं प्रोफेसर की शह पर अनीता की रैगिंग लेती थीं। जिससे त्रस्त होकर खुदकुशी का कदम उठा लिया।

पिता ने आत्महत्या की धमकी दी

अनीता के पिता कमलेश शर्मा ने गुरुवार सुबह गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता से मुलाकात की। उन्होंने कहा था कि बेटी की मौत के जिम्मेदार लोगों को जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया, तो वे पूरे परिवार के साथ आत्महत्या कर लेंगे।

गृह मंत्री ने इसे गंभीरता से लेते हुए एसपी अंशुमान सिंह से कहा कि आरोपियों की गिरफ्तारी हर हाल में शाम तक हो जानी चाहिए। वरना जिम्मेदार अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नतीजा कमलानगर पुलिस ने दोपहर करीब 1 बजे चारों छात्राओं और प्रोफेसर को आरकेडीएफ कॉलेज से गिरफ्तार कर लिया। उन्हें महिला थाने में रखा गया, जहां कागजी कार्रवाई के बाद शाम को अदालत में पेश कर दिया।

न्यायिक मजिस्ट्रेट एके छापरिया ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। आरोपियों के खिलाफ कमलानगर थाने में धारा 306, 34 के तहत अपराध दर्ज है।

पुलिस ने भेजा कॉलेज में नोटिस

कमलानगर पुलिस ने आरकेडीएफ कॉलेज प्रबंधन को गुरुवार को नोटिस भेजा है। इसमें प्रबंधन से जुड़े तमाम लोगों से अनिता के साथ हुई रैगिंग के बारे में पूछताछ करने की बात कही गई है। इसमें कॉलेज के कई लोगों से जवाब मांगे गए हैं, लेकिन गुरवार शाम तक कॉलेज प्रबंधन ने कोई जवाब नहीं दिया।