15 February 2019



राष्ट्रीय
ड्रैगन ने फिर दिखाई आंख, इसबार अरुणाचल में की घुसपैठ
21-08-2013

नई दिल्ली। चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा वह लगातार भारतीय सीमा में वास्तविक नियंत्रण रेखा का उल्लंघन कर घुसपैठ करता रहा है। इस बार चीनी सैनिकों ने लद्दाख के बाद अरुणाचल प्रदेश के हिस्से में घुसपैठ की है।

पढ़ें : लद्दाक में भारत ने चीन को दिया करारा जवाब

दरअसल यह मामला 13 अगस्त का है, जब चीनी सेना की टुकड़ियां अरुणाचल की सीमा में दाखिल हो गई। चीनी टुकड़ियां चागलागाम में फिश टेल इलाके से यहां दाखिल हुई। खबर यह भी है कि ये टुकड़ियां तीन-चार दिन तक रुकी रहीं।

पढ़ें : उस दिन भारत-चीन के जवान सौहार्दपूर्वक मिले

गौरतलब है कि इस इलाके की चौकसी भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जिम्मे है और जब फौज को बुलाया गया, तो चीनी टुकड़ियां यहां से लौट गई। हालांकि लोगों का कहना है कि चीनी टुकड़ियां इलाके में ही कहीं कैंप लगाकर बैठी हैं। सेना ने फिलहाल इलाके में चौकसी बढ़ा दी है।

हाल के दिनों में चीन द्वारा किए जा रहे इन हरकतों को देखते हुए भारत ने चीन सीमा पर अपनी ताकत का सुबूत देते हुए अपने विशाल मालवाहक विमान सी-130जे सुपर हरक्युलिस को वास्तविक नियंत्रण रेखा स्थित अग्रिम हवाई पट्टी पर उतारा है। यह पहला मौका है जब दौलत बेग ओल्डी के एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड पर भारतीय वायुसेना ने सी-130जे जैसे विशाल विमान को उतारा है।