19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
अफगान हत्याकांड में दोषी अमेरिकी सैनिक को उम्र कैद
25-08-2013

सैन फ्रांसिस्को। अफगानिस्तान के कंधार शहर में पिछले साल 16 लोगों की हत्या करने वाले अमेरिकी सैनिक को यहां पर उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। शुक्रवार को सुनवाई के दौरान नीले रंग की सैन्य वर्दी में मौजूद सार्जेट रोबर्ट बेल्स के चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी। यहां तक अदालत से निकलते समय उसने रोती हुई अपनी मां को भी गले भी नहीं लगाया। शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, 40 वर्षीय बेल्स के वकील ने ज्यूरी से कहा कि उनके मुवक्किल को एक दिन की पैरोल दी जानी चाहिए। इस पर अभियोजन पक्ष के वकील ने अपराध की जघन्य प्रवृत्ति की ओर इशारा करते हुए बेल्स को ताउम्र जेल में रखने का अनुरोध किया। 11 मार्च, 2012 को कंधार के पंजवाई जिले के नजीबन और अलकोजी गांव में घरों में घुसकर बेल्स ने 16 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। यही नहीं उनके शवों को भी जला दिया था। मृतकों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे शामिल थे। इस हमले में अपने परिवार के 11 सदस्यों को खो चुके हाजी मुहम्मद वजीर ने कहा, हत्यारे को सार्वजनिक रूप से सजा दी जानी चाहिए। अफगानिस्तान और ईराक में चार बार तैनात हो चुके बेल्स ने अपने इस कृत्य के लिए माफी मांगी है। दो बच्चों के पिता को गत जून में हत्याकांड का दोषी पाया गया था। उसने स्वीकार किया था कि हत्याकांड को अंजाम देने से पहले उसने खूब शराब पी थी। इस घटना के बाद पूरे अफगानिस्तान में विरोध प्रदर्शनों ने जोर पकड़ लिया था।