17 February 2019



प्रादेशिक
होशंगाबाद से जुड़े सभी रास्ते खुले, 28, 29 को फिर तेज बारिश की चेतावनी
26-08-2013

नर्मदा का जलस्तर सेठानीघाट पर हर घंटे कम हो रहा है। सुबह जलस्तर 965 फीट के करीब था, वह रात 9 बजे घटकर 962.80 फीट तक पहुंच गया। जलस्तर खतरे के निशान 964 फीट से डेढ़ फीट कम हो गया है। सभी रोड खुल गए हैं। बाढ़ कंट्रोल रूम के अनुसार बारना के 8 व बरगी के 4 गेट खुले होने बावजूद नर्मदा का जलस्तर कम होगा। बारना से अभी 12 हजार व बरगी से 20 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। नर्मदा का जलस्तर कम होने से घाट क्षेत्र में रविवार से फिर मंदिरों के पट खुले। तीन दिनों से बंद मंदिरों की सफाई की गई। अभी भी शहर के राहत शिविरों में करीब 4000 लोग हैं। जिले में 28 और 29 अगस्त को फिर भारी बारिश हो सकती है। जिला प्रशासन को इसकी सूचना मौसम विभाग ने दी है। इसे देखते हुए प्रशासन ने लोगों को सतर्क रहने को कहा है।

शाजापुर में आधे घंटे में पौने दो इंच

शाजापुर. रविवार शाम करीब ४.३क् बजे से आधे घंटे तक हुई झमाझम बारिश ने शहर को पानी-पानी कर दिया। सड़कें डूब गईं। आधे घंटे में ४५ एमएम यानी पौने दो इंच बारिश हुई। इधर, झमाझम बारिश से चीलर नदी भी उफान पर आ गई। चीलर डेम के वेस्टवियर में १८ वर्षीय युवक बह गया। जिसे देर शाम तक ढूंढा गया, लेकिन युवक नहीं मिला। चीलर नदी का पानी पुलिया से करीब ३ फीट ऊपर से बह निकला। यह नजारा देखने के लिए लोग उमड़ पड़े। कई घरों में पानी बह गया। कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। पिछले २४ घंटे मंे बारिश का आंकड़ा ५७ एमएम यानी सवा दो इंच तक पहुंच गया। शहरी क्षेत्र में 1 जून से अब तक हुई बारिश का आंकड़ा ११५७ एमएम यानी ४६ इंच से ज्यादा हो गया है। पिछले साल यह आंकड़ा अब तक ८४८ एमएम यानी करीब ३४ इंच ही था। जिले में १ जून से अब तक हुई बारिश का यह आंकड़ा ११२६.३ एमएम यानी ४५ इंच से ऊपर निकल गया है।