18 February 2019



प्रादेशिक
आसाराम समर्थकों ने रोकी ट्रेन, पुलिस ने भांजी लाठियां
07-09-2013
यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू के समर्थकों ने उनकी रिहाई की मांग को लेकर गुरुवार शाम को जमकर हंगामा किया। उन्होंने सुभाष नगर फाटक पर अमरकंटक एक्सप्रेस को रोक लिया। ट्रेन करीब आधा घंटा तक ख़़डी रही। इससे यात्रियों को परेशानी हुई। पुलिस की समझाइश के बाद भी प्रदर्शनकारी नहीं माने, तो उन्हें लाठियां भांजकर खदे़़ड दिया गया। पुलिस ने 10 महिलाओं समेत 19 लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी के खिलाफ आरपीएफ कार्रवाई कर रही है।

सुभाष नगर फाटक पर गुरवार शाम 4 बजे जबरदस्त हंगामे के हालात बन गए। करीब सवा सौ आसाराम समर्थक ट्रेन रोकने पटरी पर बैठ गए। इससे पहले वे दो बसों में भरकर प्रभात पेट्रोल पंप पर पहुंचे। वहां से पैदल नारेबाजी करते हुए रेलवे फाटक पर आ गए। उन्होंने शाम 4 बजे अमरकंटक एक्सप्रेस को रोक लिया। यह खबर मिलते ही एसपी अंशुमान सिंह व सीएसपी जहांगीराबाद सलीम खान पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

उन्होंने प्रदर्शनकारियों को समझाने की काफी कोशिश की, लेकिन बात नहीं बनी। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर सभी को पटरी से खदे़़ड दिया, जिससे कुछ लोगों को चोटें आई हैं। कार्रवाई शुरू होते ही अधिकतर समर्थक वहां से भाग गए। हंगामा कर रहे 19 लोगों को पुलिस ने दबोच लिया। पुलिस ने घायलों का मेडिकल कराकर आरपीएफ के हवाले कर दिया।

क्रॉसिंग पर चक्काजाम

सुभाष नगर रेलवे क्रॉसिंग पुलिस छावनी में तब्दील हो गया था। प्रदर्शनकारियों की ओर से ट्रेन रोकने के दौरान क्रॉसिंग के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई। हालांकि छोटे वाहन अंडरब्रिज से निकलते रहे।

इनका कहना है

पुलिस ने ट्रेन रोकने व सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में 19 लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके खिलाफ आरपीएफ कार्रवाई करेगी। गिरफ्तार लोग आसाराम की रिहाई की मांग कर रहे थे।