19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
नेपाल में हड़ताल से जनजीवन अस्त-व्यस्त
13-09-2013

काठमांडू। नेपाल में आगामी 19 नवंबर को होने वाले संविधान सभा के चुनाव को स्थगित करने की मांग को लेकर सीपीएन-माओवादी पार्टी के नेतृत्व में 33 दलों के गठबंधन द्वारा की गई हड़ताल से राजधानी काठमांडू और देश के पूर्वी भागों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। हड़ताल के कारण परिवहन सेवा पूरी तरह चरमरा गई। काठमांडू, ललितपुर और भक्तपुर जिलों तथा पूर्वी नेपाल के करीब दर्जन भर जिलों में शैक्षणिक संस्थान, बड़े बाजार और अधिकांश फैक्ट्रियां बंद रहीं। हालांकि हड़ताल के दौरान पर्यटक बसों, एंबुलेंस और प्रेस के वाहनों को काम करने दिया गया। घाटी के प्रत्येक भाग में बंद समर्थकों ने प्रदर्शन किया। सीपीएन-माओवादी और कुछ अन्य दल विवादित मुद्दों पर सभी दलों की बैठक बुलाना चाहते हैं। वे चुनाव स्थगित करने की मांग कर रहे हैं। किसी अवांछित घटना को रोकने के लिए काठमांडू में व्यापक सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं।