19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
अमेरिकी नेवी यार्ड भी सुरक्षित नहीं? शूटआउट में 12 की मौत
17-09-2013

वाशिंगटन। राजधानी वाशिंगटन में सबसे सघन सुरक्षा वाले व्हाइट हाउस से महज पांच किमी दूर स्थित नौसेना मुख्यालय की इमारत के बाहर फायरिंग में 12 लोगों की मौत हो गई और कई घायल हुए। घायलों में कई की हालत गंभीर है। घटना के बाद पुलिस और सुरक्षाबलों ने नौसैनिक अड्डे को घेर लिया है। एक अमेरिकी नौसेना अधिकारी ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में एक हमलावर को भी मार गिराया गया है, जबकि बाकी दो की तलाश जारी है।

इमारत के नजदीक की गलियों को बंद करने के साथ ही रीगन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से सभी उड़ानों को स्थगित कर दिया गया है। वाशिंगटन पोस्ट ने पुलिस सूत्रों के हवाले से कहा है कि हमलावरों की संख्या तीन थी और इनमें से एक सैनिक की वर्दी पहने था। वाशिंगटन पुलिस प्रमुख कैथी लैनियर ने बताया कि एक श्वेत और एक अश्वेत हमलावर फरार होने में कामयाब हो गया, जिनका कोई सुराग नहीं मिल पा रहा है। पेंटागन के प्रवक्ता जॉर्ज लिटिल ने बताया कि राजधानी के सभी सैन्य प्रतिष्ठानों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

नौसेना ने बताया कि गोलीबारी की यह घटना स्थानीय समयानुसार सोमवार सुबह करीब 8.20 मिनट पर नेवल सी सिस्टम कमांड हेडक्वाटर्स में हुई। इस इमारत में करीब 3000 लोग काम करते हैं। वाशिंगटन नेवी यार्ड अमेरिकी नौसेना का सबसे पुराना और पांच बड़े ठिकानों में एक है। फायरिंग में मरने और घायल हुए लोगों की सही संख्या का अभी पता नहीं चल पाया है, लेकिन घटना में 12 लोगों की मौत की बात कही जा रही है। रक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि फायरिंग में कई लोग घायल हुए हैं।