21 February 2019



प्रादेशिक
एक ही मंच पर होंगे मोदी और आडवाणी
19-09-2013
भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी घोषित होने के बाद गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी और पिछले चुनाव के पीएम इन वेटिंग लाल कृष्ण आडवाणी 25 सितंबर को कार्यकर्ता महाकुंभ में पहली बार एक मंच पर होंगे। मप्र भाजपा ने राजधानी के जंबूरी मैदान पर महाकुंभ के लिए लाखों कार्यकर्ताओं को बुलाने की तैयारियां की हैं।

इस महत्वाकांक्षी आयोजन के लिए प्रदेश के सभी जिलों से करीब 5 लाख लोगों को भोपाल लाने की तैयारी की गई है। मोदी और आडवाणी सहित लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह एवं अरण जेटली, अनंत कुमार सहित राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल भी विशेष रूप से मौजूद रहेंगे। 13 सितंबर को भाजपा संसदीय दल की ओर से मोदी को प्रधानमंत्री प्रत्याशी घोषित किए जाने और उसके बाद सामने आई आडवाणी की प्रतिक्रिया व पार्टी अध्यक्ष को लिखा पत्र मीडिया की सुर्खियां बन चुके हैं।

आयोजन पर निगाहें

दिल्ली में हुए इस घटनाक्रम के बाद भोपाल में पहला मौका होगा जब मोदी और आडवाणी एक साथ एक ही मंच पर होंगे। भोपाल के इस आयोजन को विपक्षी पार्टियों सहित राजनीतिक प्रेक्षकों की भी निगाहें लगी हुई हैं। भाजपा में इन दिनों राजनीतिक गतिविधियां चरम पर हैं पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद मिशन 2014 भी सामने है। इसलिए मोदी का नाम सामने आने के बाद विधानसभा चुनाव लोकसभा के पहले सेमीफाइनल के रूप में देखे जा रहे हैं। भाजपा ने यहां फतह हासिल करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

धमाकेदार होगा शो

मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने कार्यकर्ता महाकुंभ को अब तक राजनीतिक इतिहास का सबसे ब़़डा और धमाकेदार बनाने का संकल्प लिया है।

जन आशीर्वाद यात्रा लेकर प्रदेश के गांव-गांव में घूम रहे शिवराज ने 10 सितंबर को भाजपा की विशेष बैठक में भी प्रदेश के सभी पदाधिकारियों और भाजपाइयों को इस आयोजन में ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ताओं को लाने का आग्रह कर चुके हैं। चुनाव प्रबंधन समिति के पदाधिकारी पिछले कई दिनों से आयोजन की तैयारियों में जुटे हैं।