17 February 2019



प्रादेशिक
मोदी का लेकर सुषमा-शिवराज में वार्ता
19-09-2013
गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद मप्र में भी मोदी फेक्टर काम करने लगा है। भाजपा की राष्ट्रीय राजनीति में हुए इस फेरबदल से मप्र के राजनीतिक समीकरण भी प्रभावित होंगे। मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज के बीच हुई लंबी चर्चा को लेकर यही कयास लगाए जा रहे हैं। बताया जाता है कि सुषमा और शिवराज की मुलाकात में राष्ट्रीय स्तर पर बदले समीकरण के बाद प्रदेश की राजनीतिक परिस्थितियों पर चर्चा हुई। विधानसभा चुनाव की तैयारियां और कार्यकर्ता महाकुंभ को लेकर भी विचार विमर्श किया गया। भाजपा की प्रदेश चुनाव समिति के गठन की प्रक्रिया अभी चल रही है इस पर मंथन किया गया। इसी सप्ताह में पार्टी के टिकट वितरण करने वाली इस महत्वपूर्ण समिति के सदस्यों का ऐलान किए जाने की संभावना है। सुषमा-शिवराज की डेढ़ घंटे चली बैठक के बाद चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक अनिल माधव दवे ने भी दोनों नेताओं से चर्चा की।

पांच रुपए कर दी मोदी की कीमत

भोपाल [ब्यूरो]। प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष रामेश्वर नीखरा ने आरोप लगाया है कि कार्यकर्ता पंजीयन की आ़़ड में भाजपा के पीएम इन वेटिंग नरेन्द्र मोदी की कीमत पांच रुपए कर दी है। इससे भाजपा में मोदी को लेकर बन रही सोच का पता चलता है। नीखरा ने भाजपा के कार्यकर्ता सम्मेलन में महाकुंभ जैसे प्रतीक के इस्तेमाल पर भी ऐतराज जताया है।

उन्होंने कहा कि राजनीतिक कार्यक्रमों का शीर्षक राजनीतिक ही होना चाहिए। कार्यकर्ता सम्मेलन में अल्पसंख्यकों को पारंपरिक वेशभूषा में विशेष तौर पर उपस्थित करने की कवायद को भी गलत ठहराया।

नीखरा ने कहा कि बैठक में असली मुसलमान तो नहीं लेकिन संघ के प्रशिक्षित लोगों को जरूर नकली मुसलमान बनाकर बैठाया जाएगा।