18 February 2019



प्रादेशिक
मोदीमय हुआ भोपाल
26-09-2013
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित भाजपा के कार्यकर्ता महाकुंभ में प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी और लालकृष्ण आडवाणी सहित तमाम दिग्गज नेता पहुंचे। पार्टी का दावा है कि विश्व के सबसे बडे़ राजनीतिक सम्मेलन में पांच लाख से ज्यादा कार्यकर्ता कार्यक्रम स्थल [जंबूरी मैदान] में कार्यकर्ता महाकुंभ में पहुंचे हैं।

भाजपा के इस राजनीतिक सम्मेलन की शुरुआत पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह, लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष अरुण जेटली, मुरली मनोहर जोशी, वेंकैया नायडू, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेशाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर, उमा भारती सहित देश के तमाम दिग्गजों की मौजूदगी में लगभग एक बजे हुई। शुरआत में मुख्यमंत्री चौहान और तोमर ने आडवाणी, मोदी, राजनाथ सिंह का ब़़डी मालाएं पहनाकर स्वागत किया। मंच पर आडवाणी और मोदी के बीच राजनाथ बैठे। जब मोदी और आडवाणी को संयुक्त रूप से माला पहनाई जा रही थी तो मोदी ने राजनाथ को बीच में बुला लिया। इसके बाद आडवाणी के एक तरफ मोदी तो दूसरी ओर शिवराज हो गए।

स्वागत के बाद आडवाणी ने पीएम इन वेटिंग मोदी को गुलदस्ते भेंट कर उनका स्वागत किया, तत्काल ही उन्होंने दूसरा गुलदस्ता शिवराज सिंह को सौंपा। इस पर शिवराज ने तत्काल आडवाणी के पैर छूकर आर्शीवाद लिया। मोदी यह दृश्य तो कुछ देर देखते रहे और कुछ क्षणों बाद उन्होंने भी आडवाणी के पैर छूकर सारे गिले-शिकवे दूर करने का संदेश दे दिया। हालांकि, आडवाणी ने न तो मोदी की ओर देखा और न कोई प्रतिक्रिया दी।

गिनीज बुक की टीम..

दुनिया के सबसे ब़़डे राजनीतिक समागम के दावे को परखने के लिए गिनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकार्ड के अधिकारी भी कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए हैं। दोपहर सवा एक बजे के लगभग इन अधिकारियों ने तीन लाख से ज्यादा कार्यकर्ताओं की मौजूदगी की पुष्टि की वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता नंदकुमार सिंह चौहान ने दावा किया कि कार्यक्रम में 7 लाख 71 हजार से ज्यादा कार्यकर्ता मौजूद हैं। पार्टी का मानना है कि यह सम्मेलन विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक सम्मेलन है।

कांग्रेसियों पर बल प्रयोग

मोदी की यात्रा का विरोध कर रहे कांग्रेसियों पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया। ये कार्यकर्ता मोदी के विरोध में काले झण्डे दिखाने की कोशिश कर रहे थे।

जेट प्लस सुरक्षा में भी सेंध

लगभग आधा दर्जन जेट प्लस सुरक्षा वाले नेताओं की मौजूदगी में भी सुरक्षा व्यवस्था में कई खामियां नजर आई। जबलपुर के एक युवक संजय रावत को पुलिस ने रिवाल्वर सहित गिरफ्तार किया। यादव सारे सुरक्षा द्वार पार करते हुए मंच के नजदीक पहुंच गया था। जब पुलिस की नजर प़़डी तो युवक को गिरफ्तार कर पूछताछ जारी है। युवक का कहना है कि उसके पास रिवाल्वर का लायसेंस है।

राघवजी भी पहुंचे महाकुंभ में

अप्राकृतिक सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री राघवजी भी अपने तीन-चार समर्थकों के साथ कार्यकर्ता महाकुंभ में पहुंचे। राघवजी ने बताया कि उन्हें भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर और संगठन महामंत्री अरविंद मेनन के द्वारा भेजे गए आमंत्रण संबंधी एसएमएस के कारण वो कार्यक्रम में शामिल होने आए हैं। उन्होंने कहा कि यह एक सार्वजनिक कार्यक्रम है पार्टी मुझे अपना माने या न माने मुझे इसका कोई अफसोस नहीं है। मैं जो जनता के बीच सिर्फ मोदी को सुनने आया हूं।

कई दिग्गजों को पुलिस ने रोका

इधर, सुरक्षा के इंतजामों के चलते भाजपा के कई दिग्गजों को प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना भी करना प़़डा। वीआईपी गेट से ग्वालियर की महापौर समीक्षा गुप्ता को पुलिस ने लौटा दिया वहीं पार्टी राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, राज्यसभा सदस्य कप्तान सिंह सोलंकी, मुख्यमंत्री चौहान के पिता प्रेम सिंह चौहान को पुलिस ने रोक लिया था। लंबी जद्दोजहद के बाद वे कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश पा गए।

गडकरी नदारद

भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी प्रदेश के चित्रकूट में होने के बावजूद कार्यक्रम में नहीं आए। सूत्रों का दावा है कि उन्होंने मोदी की महारैली नहीं आने के पीछे का कारण हेलीकॉप्टर की व्यवस्था न हो पाने को बताया है।

शिवराज नायक, मोदी महानायक

भाजपा के मध्यप्रदेश इकाई के प्रदेशाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने स्वागत भाषषण देते हुए कहा कि भाजपा के पास ज्यादा चमकदार और बेदाग नेतृत्व उपलब्ध है। उन्होंने कहा इस महाकुंभ में केन्द्र और प्रदेश का नेतृत्व सामूहिक रूप से मौजूद है।

शिवराज जहां प्रदेश के नायक हैं तो मोदी देश के महानायक हैं। महाकुंभ में कांग्रेस के ताबूत में आखिरी कील ठोकने के लिए कार्यकर्ता लाखों की संख्या में पहुंचे है।