22 February 2019



प्रादेशिक
कांग्रेस नहीं सीबीआई लडे़गी चुनाव: मोदी
26-09-2013
मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, दिल्ली सहित 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अपने उम्मीदवार खडे़ नहीं करेगी। अगले चुनाव कांग्रेस नहीं सीबीआई लडे़गी। कांग्रेस में अब भाजपा से भिड़ने का दम नहीं रहा है इसलिए सीबीआई को मैदान में उतारा है। ये बात भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने भोपाल में आयोजित कार्यकर्ता महाकुंभ में कही। मोदी ने लाखों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यूपीए सरकार को यह भी चेतावनी दी कि उनके दमनचक्र को जनता माफ नहीं करेगी बल्कि चुन-चुनकर हिसाब लेगी। करीब 40 मिनट के भाषण में मोदी ने शिवराज सरकार की जमकर तारीफ की।

महाकुंभ में लाखों कार्यकर्ताओं की मौजूदगी से गदगद मोदी ने इसे पंडित दीनदयाल उपाध्याय के प्रति श्रृद्धांजलि बताया। साथ ही यह संकल्प भी दिलाया कि 2015-16 में देश में भाजपा की सरकार बनाकर पंडितजी को सच्ची श्रृद्धांजलि देंगे। उन्होंने कहा कि मैने 20 साल पहले एकात्म मानववाद पर शिवराज का भाषण सुना था। सरकार आने के बाद शिवराज ने एक-एक शब्द को गरीबों के हित में जमीन पर उतारकर पंडित उपाध्याय के सपनों को पूरा करने का प्रयास किया है।

आखिरी सीबीआई पर क्यों बिफरे मोदी

फर्जी मुठभे़़ड के मामले में गुजरात की मोदी सरकार पर सीबीआई अपना शिकंजा चाहती है। हाल ही में मुख्यमंत्री कार्यालय के कुछ अफसरों को भी निशाना बनाया था। यही वजह है कि मोदी के भाषण में सीबीआई सीधे निशाने पर रही।

इनक्लूसिव ग्रोथ पर चर्चा क्यों

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने देश पर 60 साल शासन किया है पर कभी इनक्लूसिव ग्रोथ का नाम तक नहीं लिया। आज उसे इस शब्द को स्वीकार करना प़़डा है। जहां-जहां सर्वागीण विकास हुआ है वहां भाजपा या एनडीए की सरकारें हैं। यही वजह है कि आज दिल्ली सल्तनत को इनक्लूसिव ग्रोथ पर चर्चा के लिए मजबूर होना प़़डा है। इसका श्रेय शिवराज सरकार को जाता है।

उन्होंने कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम के क्रियान्वयन में हमेशा भाजपा या उसके साथियों की सरकारें ही अव्वल आती रही हैं इसलिए यूपीए सरकार ने उसका लेखा-जोखा सार्वजनिक करना ही बंद कर दिया है।

दस साल से भूखी है कांग्रेस

मोदी ने पटवा सरकार के कार्यकाल में शुरू हुई कल्याणकारी योजनाओं का हवाला देते हुए कहा कांग्रेस ने उनके सभी कामों को मिट्टी में मिला दिया और दस सालों में प्रदेश को तबाह कर दिया। अब कांग्रेस दस साल से भूखी है यदि ऐसे समय कोई चूक हुई तो वह प्रदेश को बेहाल कर देगी। इसलिए सभी का दायित्व बनता है कि विकास की ऊंचाई में कोई रूकावट नहीं आए। शिवराज सिंह चौहान पूरी ताकत से जीत रहे हैं। कार्यकर्ता ऐ़़डी--चोटी का जोर लगा दें।

अ़़डंगे डालती है यूपीए

मोदी ने कहा कि भाजपा और उनके गठबंधन वाली सरकारों को यूपीए चैन से नहीं बैठने देती है। गुजरात में सरदार सरोवर बांध में यूपीए सरकार गेट नहीं लगने दे रही है। यदि गेट लग जाएं तो मध्यप्रदेश को 800 मेगावॉट बिजली मुफ्त मिलेगी। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने ही प्रदेश को बीमारू बनाया और कांग्रेस ने पचास साल में जितना काम नहीं किया उससे तीन गुना ज्यादा काम शिवराज सिंह चौहान ने किया।

बदला जनता से नहीं हमसे लो

मोदी ने यूपीए चुनौती देते हुए कहा कि वे अ़़डंगे लगाने की आदत से बाज आए। कांग्रेस को हराने की सजा प्रदेश की जनता को न दें। हम नेताओं से ल़़डें। जनता को दुखी न करें। उन्होंने कहा यूपीए सरकार कांग्रेस शासित राज्यों से आधा पैसा भी भाजपा शासित राज्यों को नहीं देती है।

शिवराज ने एबीसीडी तो मोदी ने वन,टू, थ्री में बताए घोटाले

मोदी ने कहा कि जिस तरह शिवराज सिंह ने एबीसीडी के जरिए घोटालों की लिस्ट सुनार्अ यदि इसमें हजम किए हुए रूपयों को आंक़़डों में पेश किया जाए तो भोपाल से एक लिखना शुरू करें तो अंतिम शून्य दस जनपथ तक पहुंच जाएगा।

महात्मा गांधी का सपना अधूरा

मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा महात्मा गांधी का एक महत्वपूर्व सपना अधूरा रह गया है। गांधीजी का सपना था कि कांग्रेस का समाप्त कर दिया जाए। कांग्रेस ने उनकी यह अंतिम इच्छा पूरी नहीं की। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संकल्प दिलवाया कि कांग्रेस मुक्त हिन्दुस्तान का अधूरा सपना हम पूरा करेंगे।

चारों तरफ भाजपा का जयकारा

गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा कि चारों तरफ भाजपा का जयकारा चल रहा है। सब कहते हैं इस बार भाजपा की आंधी है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक चल रही है। सारे सर्वे भाजपा के पक्ष में आ रहे हैं। शिवराज, रमन, वसुंधरा की वाह-वाही हो रही है। यह सुनकर हमारा सीना चौ़़डा हो जाता है पर आंधी कितनी ही तेज क्यों न हो साइकिल के ट्यूब में हवा नहीं भर सकती, उसके लिए पंप होना जरूरी है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आव्हान किया कि पोलिंग बूथ में इस आंधी को मत पेटी तक ले जाना महत्वपूर्ण काम है। ये कार्यकर्ता के संपर्क से ही हो सकता है।