16 February 2019



राष्ट्रीय
हत्या के बाद मुजफ्फरनगर में पथराव, आगजनी
07-11-2013

 शाहपुर थाना क्षेत्र के मंसूरपुर रोड पर एक युवक की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इससे गुस्साए संप्रदाय विशेष के सैकड़ों युवकों ने वाहनों पर पथराव किया और आरएसएस के विभाग संघचालक व उनके पुत्र के क्लीनिक में तोड़फोड़ कर बाहर खड़ी दो मोटरसाइकिलें फूंक दीं।

घटना से कस्बे में भगदड़ मच गई। आनन-फानन में बाजार बंद हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठियां फटकारकर भीड़ को खदेड़ा। जबरदस्त तनाव को देखते हुए भारी फोर्स तैनात कर दिया गया है। कस्बे में अघोषित क‌र्फ्यू जैसे हालात हैं। डीएम, एसएसपी मौके पर हैं। एसएसपी एचएन सिंह ने कहा है कि पुरानी रंजिश के चलते हत्या हुई है। कस्बा शाहपुर निवासी युवक फेरी लगाकर पुराना लोहा व टीन आदि खरीदता था।

बुधवार शाम साढ़े पांच बजे वह रेहड़ी लेकर वापस लौट रहा था, तभी मंसूरपुर रोड पर अज्ञात हमलावरों ने उसकी गर्दन में गोली मार दी और फरार हो गए। पीछे से आ रहे अल्पसंख्यक समुदाय के युवकों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गई।

दंगे के आरोपी पर पुलिस मौजूदगी में हमला

मुजफ्फरनगर। शाहपुर थानाक्षेत्र के गांव कुटबा में हिंसा के मामले में नामजद आरोपी जोगेंद्र सिंह को संप्रदाय विशेष के लोगों ने पुलिस हिरासत में हमला कर घायल कर दिया। पुलिस ने उसे बमुश्किल बचाया और लाठियां फटकारकर भीड़ को तितर-बितर किया। जोगेंद्र बुधवार सुबह वह शाहपुर स्थित अपनी टै्रक्टर रिपेयर की दुकान पर गया था। उसी समय किसी ने पुलिस को उसके शाहपुर में होने की सूचना दे दी। पुलिस के पहुंचने से पूर्व ही संप्रदाय विशेष के सैकड़ों लोग दुकान पर पहुंच गए और घेरकर उसकी पिटाई शुरू कर दी।

घायल हुए जोगेंद्र को पुलिस ने बमुश्किल बचाया लेकिन भीड़ ने पुलिस से छीनकर उसकी फिर पिटाई की। आखिरकार पुलिस ने लाठियां फटकारकर भीड़ को भगाया। घटना से कस्बे में भगदड़ मच गई और बाजार बंद हो गए।