21 February 2019



प्रादेशिक
नगरीय विकास मंत्री माया सिंह द्वारा पेयजल व्यवस्था की समीक्षा
30-03-2017



नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा है कि प्रदेश में पेयजल संकट से निपटने की अभी से रणनीति बनाएँ। पेयजल समस्या के समाधान की व्यापक स्तर पर व्यवस्था करें तथा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में गर्मियों में पेयजल सुचारू रूप से मिलता रहे यह सुनिश्चित करें। श्रीमती माया सिंह आज यहाँ पेयजल की स्थिति की समीक्षा कर रही थीं। बैठक में प्रमुख सचिव नगरीय विकास तथा आयुक्त, नगरीय विकासउपस्थित थे।

मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में नल-जल योजनाएँ चलती रहे इसकी व्यवस्था करें और जहाँ जरूरत हो वहाँ पेयजल परिवहन की व्यवस्था भी करें। उन्होंने निर्देश दिए कि पेयजल की स्थिति की लगातार माँनीटरिंग की जाये।

श्रीमती माया सिंह ने कहा कि अमृत योजना, मुख्यमंत्री पेयजल योजना सहित विभिन्न योजनाओं में पेयजल आवर्धन के लिए बजट की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। लगभग 200 नगरीय निकायों में 6200 करोड़ रूपये की पेयजल परियोजनाएँ स्वीकृत की गई है। श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुसार अगले तीन साल में सभी 319 शहरों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य निर्धारित है। वर्ष 2017-18 के लिए मुख्यमंत्री शहरी पेयजल कार्यक्रम में 200 करोड़ का प्रावधान है।