18 February 2019



प्रमुख समाचार
आगामी वित्त वर्ष से कौशल्या योजना -जोशी
30-03-2017


 

प्रदेश में महिलाओं को रोजगार अवसर बढ़ाने के लिए आगामी वित्त वर्ष से कौशल्या योजना लागू की जा रही है। योजना में हर साल 2 लाख महिलाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है।

तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दीपक जोशी ने बताया है कि योजना में औपचारिक शिक्षा प्रणाली को छोड़ चुकी महिलाएँ, ऐसी कामगार महिलाएँ जो अपने अनौपचारिक कौशल का प्रमाणीकरण करवाना चाहती हैं और ऐसी कामगार महिलाएँ जो अपने कौशल को बढ़ाना चाहती हैं, को प्राथमिकता दी जायेगी। नक्सलवाद प्रभावित क्षेत्र की महिलाओं को आवासीय प्रशिक्षण दिया जायेगा।महिलाओं को परिधान एवं गृह सज्जा, आटो मोबाइल्स, सौंदर्य प्रसाधन, केपिटल गुड्स, निर्माण, घरेलू काम-काज, इलेक्ट्रॉनिक्स और हाईवेयर, फूड प्रोसेसिंग, हेल्थ केयर, रिटेल, आई.टी. सुरक्षा, टेलीकॉम, टूरिज्म एण्ड हा‍स्पिटेलिटी एवं वित्त सेवा से संबंधित प्रशिक्षण दिलवाया जायेगा। नेशनल स्किल क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) के आधार पर कौशल दक्षता के स्तर निर्धारित किए गए हैं। ऐसे कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम भी संचालित किये जायेंगे, जिनके लिए रोजगार देने वाले सुनिश्चित रोजगार देने के लिए अनुबंध करेंगे।