18 February 2019



प्रादेशिक
बैंक खाते में आधार एवं मोबाइल नम्बर जरूरी
22-04-2017

बैंक खाते से जोड़ें आधार एवं मोबाइल नम्बर

 


डिजिटल ट्रांजेक्सन को प्रोत्साहित करने के लिये जरूरी है कि सभी बैंक खाताधारक अपना मोबाइल और आधार नम्बर बैंक खाता में जुड़वायें। आधार नम्बर जुड़वाने से आप फोन के माध्यम से फण्ड ट्रांसफर और बैलेंस इंक्वायरी कर सकते हैं। मिनी स्टेटमेंट कहीं पर भी देखे सकते हैं। यह सुविधा 12 भारतीय भाषा में उपलब्ध है। बगैर फोन के भी आधार आधारित पेंमेंट सिस्टम का लाभ ले सकते हैंमोबाइल नम्बर जुड़वाने से स्मार्ट फोन धारक 'भीम' (BHIM) एप के माध्यम से विभिन्न बैंकिंग सुविधाएँ घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं। लगभग 2 करोड़ लोग 'भीम' को डाउनलोड कर बैंकिंग सुविधाओं का लाभ ले रहे हैं। डिजिटल पेमेन्ट ब्लैक मनी को रोकने में सहायक होगा। अधिक जानकारी के लिए www.meity.gov.inwww.uidai.gov.in अथवा npci.org.in का विजिट कर सकते हैं।हाल ही में भारत सरकार के इलेक्ट्रानिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इस संबंध में देशव्यापी अभियान चलाया है। अभियान के दौरान कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने, आधार नम्बर की विभिन्न योजनाओं से लिकिंग पर जोर दिया गया है। केन्दीय बजट वर्ष 2017-18 में 2500 करोड़ डिजिटल ट्रांजेक्शन यूपीआई, यूएसएसडी, आधार पे, आईएमपीएस और डेबिट कार्ड के माध्यम से करवाने का लक्ष्य रखा गया है।