17 February 2019



प्रादेशिक
वर्षा शुरू होते ही बनायें कंट्रोल रूम -पाण्डेय
16-05-2017


बाढ़ उन्मुख जिले 15 जून को या मानसून की वर्षा शुरू होते ही कंट्रोल-रूम बनायें। अधीक्षक भू-अभिलेख को कंट्रोल-रूम का प्रभारी बनायें। राज्य स्तर का कंट्रोल-रूम राहत आयुक्त कार्यालय में खुलेगा। इसका टेलीफोन नम्बर 0755-2441419 होगा।

प्रमुख सचिव राजस्व एवं राहत आयुक्त श्री अरूण पाण्डेय ने कहा है कि बाढ़ से बचाव एवं राहत के लिए जिला स्तर पर एक्शन प्लान पहले से तैयार कर लें। बाढ़ की संभावना होते ही कंट्रोल-रूम 24 घंटे खोल के रखें। दैनिक वर्षा की जानकारी संचालक मौसम केन्द्र के फैक्स नम्बर 0755-2552743 एवं ई-मेल mausambhopal@rediffmail.com पर भी भेजें। बाढ़ से बचाव के उपकरण वोट आदि को दुरूस्त करवा लें। वोट के साथ प्रशिक्षित जवानों को भी तैनात करें।

श्री पाण्डेय ने कहा है कि बाढ़ की स्थिति में जरूरत के अनुसार पुलिस बल एवं होमगार्ड की मदद ली जाय। बाढ़ उन्मुख जिले के कलेक्टर, सेना में निकटस्थ छावनी के अधिकारियों से निरंतर सम्पर्क बनाए रखें, जिससे बाढ़ बचाव कार्य में सेना की सहायता जल्द उपलब्ध हो सके।

राहत आयुक्त ने कहा है कि जलाशयों से पानी छोड़ने पर विशेष ध्यान रखा जाय। दुर्गम क्षेत्रों में वर्षा के पहले खाद्य सामग्री एवं जीवन रक्षक दवाइयाँ भंडारित करें। निजी स्त्रोतों से मिल सकने वाली बाढ़ बचाव सामग्री की भी जानकारी रखें। नाले-नालियों की सफाई करवायें। बरसात में जल मग्न होने वाली सड़कों एवं पुलियों पर चेतावनी बोर्ड लगवायें। चेतावनी का उल्लघंन करने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध कार्रवाई करें।