21 February 2019



राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री से पुरस्कृत हुए मध्यप्रदेश के कृषक
01-04-2018

 

नरसिंहपुर जिले में विकासखंड चीचली के ग्राम कनवास के प्रगतिशील किसान नरेश पटेल ने वर्ष 2015-16 में एक हेक्टर में 99.80 क्विंटल गेहूँ का रिकार्ड उत्पादन किया। इस उपलब्धि पर श्री पटेल को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पुरस्कृत किया। कृषक नरेश पटेल ने खेती में नवाचार अपनाया और सिस्टम ऑफ व्हीट इंटेंसीफिकेशन-एसडब्ल्यूआई पद्धति से जीडब्ल्यू- 366 किस्म के गेहूं की फसल लगाई। इसके लिए उन्होंने कतार से कतार की दूरी 12 इंच और पौधे से पौधे की दूरी 6 इंच रखी। गेहूँ के दो-दो दाने लगाये। उन्हें कृषि विज्ञान केन्द्र और कृषि विभाग से पर्याप्त मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। परिणाम उम्मीद से भी ज्यादा अच्छा मिला। एक हेक्टर में 99.80 क्विंटल गेहूँ का उत्पादन मिला।

कृषक नरेश पटेल बताते हैं कि उन्होंने खेत में पहले मूंग की फसल बोई और इसे खेत में ही बखर दिया। इससे खेत की मिट्टी को हरी खाद मिल गई। कुछ समय के बाद गोबर की खाद और वर्मी-कम्पोस्ट का प्रयोग भी किया। एसडब्ल्यूआई पद्धति से गेहूँ की बोवनी की। उनका कहना है कि यदि परम्परागत तरीके से खेती करते, तो कम उत्पादन होता। नवाचार अपनाने से यह फायदा मिला है। एक हेक्टर में लगभग 35 हजार रूपये की लागत आई, जिसमें मजदूरी, ट्रेक्टर, खाद, सिंचाई, बिजली, बोवनी आदि की लागत भी जुड़ी हुई है। उन्हें प्रति एकड़ 50 हजार रूपये का लाभ प्राप्त हुआ।

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, पूसा द्वारा नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय कृषि उन्नति मेले में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कृषक नरेश पटेल को पुरस्कृत किया। पुरस्कार में उन्हें दो लाख रूपये की नगद राशि और प्रशस्ति-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।